मुंबई : बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार ने डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह से मुलाकात होने की खबर का खंडन किया है। अभिनेता को पंजाब में धार्मिक बेअदबी के खिलाफ प्रदर्शनकारियों पर पुलिस गोलीबारी की जांच मामले में विशेष जांच दल (एसआईटी) द्वारा समन भेजा गया है।

सोशल मीडिया पर दिए गए एक बयान में अक्षय ने राम रहीम सिंह के साथ किसी तरह का संबंध होने या मुलाकात होने की बात को नकार दिया और इसे 'अफवाह और झूठा बयान' करार दिया। अक्षय पर आरोप है कि उन्होंने पंजाब के तत्कालीन उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल के साथ राम रहीम की मुलाकात कराने का बंदोबस्त किया था।

अक्षय ने एक बयान में कहा, "मैं जिंदगी में कभी भी, कहीं भी गुरमीत राम रहीम से नहीं मिला हूं। मुझे सोशल मीडिया से पता चला कि राम रहीम मुंबई के जुहू में मेरे ही इलाके में कहीं रहता था। लेकिन, हम दोनों एक-दूसरे से कभी नहीं मिले।"

गौरतलब है कि राम रहीम सिंह की फिल्म 'एमएसजी' का सिख समुदाय विरोध करता रहा है।

अक्षय ने कहा, "इतने सालों में, मैंने समर्पण के साथ पंजाबी संस्कृति और समृद्ध इतिहास और सिख परंपरा को बढ़वा देने वाली फिल्में जैसे 'सिंह इज किंग' और 'केसरी' (सारगढ़ी युद्ध पर आधारित) बनाई है। पंजाबी होने पर मुझे गर्व है और सिख आस्था के प्रति बेहद सम्मान है।"

अभिनेता ने कहा, "मैं कभी भी ऐसा कुछ नहीं करूंगा जिससे मेरे पंजाबी भाइयों और बहनों की भावनाएं आहत हों, जिनके प्रति मेरे मन में बहुत सम्मान और प्यार है।