SCO शिखर सम्मेलन में पीएम मोदी आज करेंगे शिरकत, पूर्ण सदस्य के तौर पर पहली बार शामिल होगा भारत

अन्य देशों के राजनेताओं के साथ पीएम मोदी (फाइल फोटो) - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : चीन में आज से शुरू हो रहे दो दिवसीय शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश के पूर्ण सदस्य के तौर पर समूह की पहली बैठक में वह भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करने को लेकर रोमांचित हैं। पीएम मोदी चीन रवाना हो गए हैं।

मोदी चिंगदाओ में एससीओ शिखर सम्मेलन के इतर चीन के राष्ट्रपति शी चिनपिंग के साथ द्विपक्षीय बैठक भी करेंगे। उक्त बैठक में दोनों नेता करीब एक महीने पहले वुहान में हुई अनौपचारिक बैठक में लिये गए निर्णयों के क्रियान्वयन का जायजा लेंगे।

पीएम मोदी ने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा, "एक पूर्ण सदस्य के तौर पर परिषद की हमारी पहली बैठक में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करने को लेकर रोमांचित हूं।''

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, "नौ और 10 जून को एससीओ शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए मैं चीन के चिंगदाओ में रहूंगा। एक पूर्ण सदस्य के तौर पर भारत के लिए यह पहला एससीओ शिखर सम्मेलन होगा। एससीओ देशों के नेताओं के साथ बातचीत होगी और उनके साथ विभिन्न विषयों पर चर्चा करेंगे।''

यह भी पढ़ें :

आज युवा रोजगार मांगने वाला नहीं, रोजगार देने वाला बन रहा : मोदी

PM मोदी ने कहा- सबको किफायती स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने को प्रतिबद्ध है सरकार

शिखर सम्मेलन में विभिन्न मुद्दों पर चर्चाएं होंगी जिनमें आतंकवाद से मुकाबला, अलगाववाद और अतिवाद से लेकर सम्पर्क में सहयोग को बढ़ावा देना, वाणिज्य, सीमा शुल्क, विधि, स्वास्थ्य और कृषि, पर्यावरण संरक्षण, आपदा जाखिम कम करना और लोगों के बीच संबंध को मजबूती प्रदान करना शामिल है।

उन्होंने कहा, "एससीओ का पूर्ण सदस्य बनने के बाद गत एक वर्ष में इन क्षेत्रों में संगठन और उसके सदस्यों के साथ हमारा संवाद खासा बढ़ा है। मेरा मानना है कि चिंगदाओ शिखर सम्मेलन एससीओ एजेंडा को और समृद्ध करेगा और एससीओ के साथ भारत के सम्पर्क की एक नयी शुरूआत होगी।''

2001 में स्थापित एससीओ में वर्तमान में आठ सदस्य हैं जिनमें भारत, कजाखिस्तान, चीन, किर्गिस्तान, पाकिस्तान, रूस, ताजिकिस्तान, उज्बेकिस्तान शामिल हैं। भारत और पाकिस्तान को गत वर्ष एससीओ में शामिल किया गया था।

Advertisement
Back to Top