चेन्नई : तमिल सुपरस्टार रजनीकांत ने अपनी फिल्म काला '' को सुचारू रूप से रिलीज होने के लिए पड़ोसी राज्य कर्नाटक के लोगों से आज सहयोग मांगा। काला ' सिनेमाघरों में कल रिलीज होनी है।

उन्होंने अपने पोएस गार्डन स्थित आवास के बाहर कन्नड़ में कहा , मैंने कोई गलती नहीं की। कृपया उन्हें कुछ ना कहे जो फिल्म देखना चाहते हैं।

मैं आपसे सहयोग का आग्रह करता हूं। '' अभिनेता ने उम्मीद जताई कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी कर्नाटक उच्च न्यायालय के आदेश के अनुसार कल उनकी फिल्म की रिलीज सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएंगे। उन्होंने कहा, फिल्म की रिलीज के खिलाफ विरोध कर रहे लोगों से मैं कहना चाहता हूं कि मैंने कर्नाटक से कावेरी प्रबंधन बोर्ड का पालन करने के लिए कहा था। मुझे नहीं पता कि इसमें क्या गलत है।

मैंने यह भी कहा था कि बांधों का प्रशासन बोर्ड द्वारा होना चाहिए। '' उन्होंने कहा कि फिल्म की रिलीज को रोकने के प्रयास सही नहीं प्रतीत होते। '' दिग्गज अभिनेता ने आरोप लगाया कि यह जानकर आश्चर्य ' हुआ कि कर्नाटक फिल्म चैंबर ऑफ कॉमर्स (केएफसीसी) भी उन लोगों का हिस्सा है जो ऐसे प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि चैंबर को फिल्म प्रोड्यूसरों और वितरकों के हितों की रक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए।

ये भी पढ़ें---

प्रदर्शनों पर रजनीकांत की टिप्पणी की द्रमुक, अन्य दलों ने की निन्दा

रजनीकांत ने कहा- अब कभी नहीं खुलना चाहिए तूतीकोरिन स्टारलाइट प्लांट

गौरतलब है कि कावेरी मुद्दे पर रजनीकांत की टिप्पणी से नाराज होकर केएफसीसी ने काला '' को प्रदर्शित करने की अनुमति ना देने का 29 मई को फैसला किया था। रजनीकांत ने कहा था कि कर्नाटक में जो भी सरकार सत्ता में आए वह कावेरी जल बंटवारे पर उच्चतम न्यायालय के आदेश का पालन करें। रजनीकांत ने कहा कि फिल्म दुनिया में रिलीज होगी और अगर यह कर्नाटक में रिलीज नहीं होगी तो यह अच्छा नहीं लगेगा।

उन्होंने कहा , उन्हें इसे समझना चाहिए। हमारी उनके हितों को प्रभावित करने की कोई मंशा नहीं है। '' कुमारस्वामी ने काला '' के वितरकों से अनुरोध किया था कि वह इस तरह के माहौल '' में इसे रिलीज ना करें लेकिन साथ ही कहा कि उनकी सरकार इस मुद्दे पर उच्च न्यायालय के आदेश का पालन करेगी। कर्नाटक उच्च न्यायालय ने काला '' की शांतिपूर्ण रिलीज के लिए आवश्यक सुरक्षा मुहैया कराने का कल राज्य सरकार को निर्देश दिया था।

कावेरी विवाद पर अभिनेता की टिप्पणी के बाद कन्नड़ समर्थक संगठनों ने फिल्म की रिलीज रोकने की धमकी दी है। इस बीच, उच्चतम न्यायालय ने फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने से आज इनकार कर दिया।