रोड शो के बाद PM मोदी ने देश को समर्पित किया सबसे स्मार्ट एक्सप्रेस-वे

रोड शो के बाद एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करते प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11,000 करोड़ रुपये की लागत से तैयार देश के पहले सबसे हाईटेक एक्सप्रेस-वे का रविवार को उघाटन किया। इस दौरान पीएम मोदी ने खुली गाड़ी में रोड शो किया। प्रधानमंत्री का 'रोड शो' निजामुद्दीन ब्रिज से शुरू हुआ। पीएम के उदघाटन के साथ ही 135 किलोमीटर के ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे के पहले चरण की शुरुआत हो गई है।

यह दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे का लगभग नौ किलोमीटर का पहला चरण है। इस पर छह किलोमीटर की यात्रा के बाद प्रधानमंत्री का हेलीकाप्टर से बागपत जाने का कार्यक्रम है, जहां वह पूर्वी बाहरी एक्सप्रेसवे को देश को समर्पित करेंगे।

इसे भी पढ़ें

“प्रधानमंत्री के पास नहीं है समय तो खुद करो उद्घाटन, 1 जून से जनता के लिए खोलें एक्सप्रेस-वे”

सड़क परिवहन, राजमार्ग और पोत परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कल यहां कहा, ‘‘प्रधानमंत्री दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे पर छह किलोमीटर खुले जीप पर यात्रा करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री वहां प्रदर्शनी तथा 3डी मॉडल का उद्घघाटन करेंगे और वहां से ईपीई राष्ट्र को समर्पित करने के लिये बागपत जाएंगे।''

मंत्री ने कहा कि कुल 135 किलोमीटर लंबे ईपीई पर 11,000 करोड़ रुपये की लागत आई है। यह देश का पहला राजमार्ग है, जहां सौर बिजली से सड़क रोशन होगी। इसके अलावा प्रत्येक 500 मीटर पर दोनों तरफ वर्षा जल संचयन की व्यवस्था होगी। साथ ही इसमें 36 राष्ट्रीय स्मारकों को प्रदर्शित किया जाएगा तथा 40 झरने होंगे।

इसे भी पढ़ें

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर वायुसेना का अभ्यास, सबसे पहले हरक्युलिस  C130 की हुई लैंडिंग

इसे रिकार्ड 500 दिनों में पूरा किया गया है। इस एक्सप्रेस वे पर 8 सौर संयंत्र हैं, जिनकी क्षमता 4 मेगावाट है। प्रधानमंत्री ने इस परियोजना के लिये आधारशिला पांच नवंबर 2015 को रखी थी।

ये है पीएम मोदी का कार्यक्रम

-प्रधानमंत्री सुबह 10 बजे निजमुद्दीन मोड़ पहुंचेंगे। इसके बाद दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का उद्धाटन करेंगे। गाजीपुर तक रोड शो करने के बाद अक्षरधाम से बागपत के लिए उड़ान भरेंगे।

-सुबह 11 बजे प्रधानमंत्री मोदी कुंडली पहुंचेंगे। जहां डिजिटल गैलरी-3डी मॉडल का उद्घाटन करेंगे। इसके बाद पीएम सड़क मार्ग के जरिए बागपत के लिए रवाना हो जएंगे।

-दोपहर 12 बजे पीएम मोदी बागपत में रैली को संबोधित करेंगे।

-रैली को संबोधित करने के बाद दोपहर 1 बजे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दिल्ली के रवाना हो जाएंगे।

ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे की खासियत

1-यह एक्सप्रेस-वे 135 किलोमीट लंबा है, जो गाजियाबाद, फरीदाबाद, पलवल और ग्रेटर नोएडा के बीच सिग्नल फ्री कनेक्टिविटी को मजबूत करेगा।

2-इस एक्सप्रेस-वे पर लाइटिंग की पूरी सुविधा सोलर पैनल के जरिए की जाएगी। यही नहीं इसका दृश्य भी बेहद सुंदर होगा, क्योंकि इस एक्सप्रेस-वे के किनारों पर तकरीबन 2.5 लाख पेड़ लगाए जाएंगे।

3-अब तक यूपी से हरियाणा और हरियाणा से यूपी जाने वाले तकरीबन दो लाख वाहन प्रतिदिन दिल्ली से होकर सफर करते थे। इसके शुरुआत होने पर ये वाहन दिल्ली को बाईपास कर निकलेंगे, जिससे प्रदूषण में कमी आएगी।

4-नेशनल एक्सप्रेस-वे 2 कहे जाने वाले इस मार्ग पर पेट्रोल पंर, रेस्ट एरिया, होटल, रेस्तरां, दुकानों और रिपेयर सर्विसेज की सुविधा उपलब्ध रहेगी।

5-हर 500 मीटर की दूरी पर रेनवॉट हार्वेस्टिंग की भी व्यवस्था होगी। ड्रिप इरिगेशन की तकनीक के चलते इस पानी से ही पेड़ों की सिंचाई भी होगी।

6-स्वच्छ भारत मिशन को ध्यान में रखते हुए हर 2.5 किलोमीट की दूरी पर टॉयलेट्स बनाए गए हैं। इस पूरे मार्ग पर 6 इंटरचेंज, 4 फ्लाईओवर, 71 अंडरपास और 6 आरओबी हैं। इसके अलावा यमुना और हिंडन पर दो बड़े पुल हैं।

Advertisement
Back to Top