नई दिल्ली : बीएस येदियुरप्पा कर्नाटक के मुख्यमंत्री रहेंगे या नहीं, इसका फैसला आज शाम चार बजे हो जाएगा। इस बीच कर्नाटक विधानसभा की कार्यवाही शुरू हो गई है। दोनों पार्टियों के विधायक विधानसभा में पहुंच चुके हैं। प्रोटेम स्पीकर केजी बोपैया सभी विधायकों को शपथ दिलाई। वहीं पर्याप्त संख्या बल ना हो पाने पर 'प्लान बी' पर काम करते हुए भाषण के बाद येदियुरप्पा ने अपने इस्तीफे का ऐलान कर दिया है।

सदन में भाषण देते हुए येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री पद का प्रत्याशी बनाए जाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह का धन्यवाद ज्ञापति किया।

येदियुरप्पा ने क्या कहा

- कांग्रेस और जेडीएस को कर्नाटक की जनता ने खारिज कर दिया है।

- जनता ने हमें सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर चुना है।

- कांग्रेस-जेडीएस का गठबंधन अवसरवादी है।

- सरकार से नाराज लोगों ने हमको चुना था। हमने लोगों के आंसू पोछे हैं।

- पिछले दो सालों में मैं राज्य के हर तहसील हर जिले में गया, वहां के लोगों की समस्याओं को जाना हूं।

- प्रदेश के किसान काफी परेशान हैं और मैं उनकी मदद करना चाहता हूं।

- किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य देना चाहता था।

- किसानों का कर्ज माफ करना चाहता हूं। जब तक जिंदा हूं किसानों की सेवा करता रहूंगा।

- पांच-साल में मैंने बहुत उतार-चढ़ाव देखा है। हमें ईमानदार नेताओं की जरूरत है।

- जनता ने हमें 113 सीटें दी होती तो प्रदेश की तस्वीर कुछ और होती, मैं राज्य की तस्वीर बदल देता हूं।

- हमारे पीएम कर्नाटक की मदद करने से कभी पीछे नहीं हटे, तब भी नहीं हटे जब राज्य में कांग्रेस की सरकार थी।

- जनसेवा में जीवन समर्पित करने को तैयार हूं। मैं लोगों के बीच जाउंगा।

- मैं राज्य के हर इलाके में जाउंगा और 150 सीटें जीतकर फिर आउंगा।

- मैं यहां से सीधे राज्यपाल के पास जाउंगा और मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दूंगा, लेकिन मैं जनता के बीच जाउंगा और जनता मुझे फिर से चुनेगी।

कब क्या-क्या हुआ

11:49- इस बीच सदन में कांग्रेस के कुल 76 विधायक मौजूद हैं।

11:51- जेडीएस के सभी विधायक सदन में मौजूद

11:53- कांग्रेस-जेडीएस के 114 विधायक विधानसभा में मौजूद।

12:20- बीजेपी विधायक सोम शेखर रेड्डी भी सदन से रहे लापता।

12:30- कांग्रेस ने बीजेपी पर लगाया विधायकों के अपहरण का आरोप

1:00- सदन की कार्यवाही के दौरान हंगामे के आसार देखकर मार्शलों ने मोर्चा संभाला है। इस दौरान विधानसभा में करीब 200 मार्शल तैनात हैं।

1:10- कांग्रेस ने बीजेपी पर लगाया विधायकों के खरीद-फरोख्त का आरोप

1:12- कांग्रेस ने जारी किया MLA विसी पाटिल और येदियुरप्पा के बेटे का प्रलोभन वाला ऑडियो क्लिप।

11:15- कांग्रेस ने अपने विधायक श्री राम की पत्नी और बीजेपी नेता की ऑडियो क्लिप की जारी। क्लिप में बीजेपी नेता विधायक की पत्नी को दे रहा है मंत्री पद का प्रलोभन

1:40- कांग्रेस के दोनों विधायक बेंगलुरु के होटल गोल्ड फिंच से बरामद

1:45- होटल गोल्ड फिंच में बीजेपी विधायक सोम शेखर रेड्डी भी मौजूद, शपथ लेने से किया मना।

3:10- येदियुरप्पा ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से की बात।

3:30- अनंत कुमार और सदानंद गौड़ा विधानसभा की दर्शक दीर्घा में पहुंचे।

3:38- कांग्रेस विधायक आनंद सिंह विधानसभा पहुंचकर शपथ ग्रहण किया।

3:40- बीजेपी विधायक सोम शेखर रेड्डी ने लिया शपथ।

बता दें कि बीजेपी विधायक केजी बोपैया की नियुक्ती पर कांग्रेस ने सवाल उठाया था। इस मामले को लेकर कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। जिस पर आज फैसला देते हुए सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की बेंच ने बोपैया को प्रोटेम स्पीकर बने रहने दिया है। साथ कोर्ट ने यह भी कहा है कि फ्लोर टेस्ट का लाइव प्रसारण किया जाएगा

कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि बोपैया विधानसभा में सबसे वरिष्ठ नेता नहीं हैं। संसदीय रिवाज के अनुसार, सबसे अधिक बार चुने जाने के आधार पर वरिष्ठ सदस्य को प्रोटेम स्पीकर बनाया जा सकता है।