नई दिल्ली : बीएस येदियुरप्पा कर्नाटक के मुख्यमंत्री रहेंगे या नहीं, इसका फैसला आज शाम चार बजे हो जाएगा। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद येदियुरप्पा को विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना है। वहीं फ्लोर टेस्ट के लिए कांग्रेस और जेडीएस ने भी तैयारी कर रखी है। दोनों दलों के विधायक हैदराबाद से बेंगलुरू पहुंच गए हैं।

जानकारी के अनुसार सुबह सबसे पहले विधायकों को शपथ दिलाई जाएगी। वहीं विधानसभा में होने वाले शक्ति परीक्षण के लिए राज्यपाल वजुभाई वाला ने बीजेपी के विधायक केजी बोपैया को प्रोटेस स्पीकर नियुक्त किया है। इससे पहले कांग्रेस के विधायक आरवी देशपांडे का नाम प्रोटेम स्पीकर के तौर पर चल रहा था। केजी बोपैया की निुयक्ती पर कांग्रेस और जेडीएस ने सवाल उठाया है। इसके खिलाफ कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी दाखिल कर रखी है, जिस पर आज सुबह 10:30 बजे सुनवाई होगी।

इन्हें भी पढ़ें

कर्नाटक : सिद्धारमैया एक बार फिर बने कांग्रेस विधायक दल के नेता

कर्नाटक : प्रोटेम स्पीकर केजी बोपैया विधायकों को दिलाएंगे पद एवं गोपनीयता की शपथ

केजी बोपैया के प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किए जाने कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने सवाल उठाया है। उन्होंने कहा है कि राज्यपाल ने संविधान का अपमान किया है। वहीं बोपैया की नियुक्ति पर केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के कर्नाटक प्रभारी प्रकाश जावेड़कर ने सफाई दी है। उन्होंने कहा कि बोपैया 2008 में भी प्रोटेम स्पीकर बन चुके हैं।