पटना : राजद प्रमुख लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव के विवाह में उस वक्त हंगामा हुआ, जब अनियंत्रित भीड़ ने वीआईपी और मीडिया के लिए बने पंडाल को अलग करने वाले घेरे को तोड़ दिया तथा खाने का सामान लूटने लगे। तेज प्रताप राजद विधायक चंद्रिका राय की पुत्री ऐश्वर्या राय के साथ शनिवार को विवाह सूत्र में बंधे।

विवाह समारोह में जुटने वाले हजारों लोगों के लिए इंतजाम किया गया था। जयमाला कार्यक्रम के कुछ ही समय बाद भीड़ ने घेरा तोड़ दिया और लोग खाने की चीजें लूटने लगे। ये लोग संभवत: राजद समर्थक थे। जल्द ही पूरा क्षेत्र टूटी क्राकरी, उलटे टेबल और कुर्सियां से पट गया।

इस बीच पार्टी के कई नेताओं ने लोगों को भगाने का असफल प्रयास किया। कई कैमरामैन सहित मीडियाकर्मियों ने शिकायत की कि उनके साथ हाथपायी हुई और उनके उपकरणों को क्षति पहुंचायी गई। कैटरर ने कहा कि अनियंत्रित भीड़ में शामिल लोगों ने उनके कुछ बर्तन और अन्य चीजें लूट लीं।

यह भी पढ़ें : वेटनरी कॉलेज में ऐश्वर्या कर रही हैं ‘तेज’ का इंतजार, मेहमानों को परोसा जाएगा यह पकवान

बता दें विशाल वेटरनेरी कॉलेज मैदान में आयोजित विवाह समारोह में कई वीआईपी और हजारों आम लोगों ने हिस्सा लिया। बिहार के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनकी कैबिनेट के कई सहयोगी, दिग्गज समाजवादी नेता शरद यादव ने वर-वधु को आशीर्वाद दिया।

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के सभी शीर्ष अधिकारी अतिथियों के स्वागत के लिये प्रवेश द्वार पर खड़े थे। नीतीश कुमार भी इस अवसर पर शामिल हुए और वर - वधु को आर्शीवाद दिया। लालू के छोटे बेटे और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव एवं बेटी मीसा भारती ने नीतीश का स्वागत किया। मीसा राज्यसभा की सदस्य हैं।