हैदराबाद : YSR कांग्रेस पार्टी के विधायक आल्ला रामकृष्णा रेड्डी ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू और मंत्री लोकेश जनधन की लूटखसोट कर रहे हैं। चंद्रबाबू और लोकेश ने लूटखसोट की नीति को राजनीति बना ली है। इस क्रम में 'अन्ना कैंटीन' उनके लिए लूटखसोट का एक जरिया बना गया है।

रामकृष्णा रेड्डी ने कहा है कि चंद्रबाबू ने वर्ष 2014 के चुनाव में 630 आश्वासन दिए। 'अन्ना कैंटीन' इन आश्वासनों में से एक आश्वासन है। उन्होंने कहा कि टीडीपी के नेतृत्व में बनी सरकार ने 'अन्ना कैंटीन' का आश्वासन तब पूरा किया जब उनके पास अन्य आश्वासनों को पूरा करने का कोई रास्ता नहीं था। आप को बता दें कि 'अन्ना कैंटीन' तब शुरू की गई जब अगले वर्ष आम चुनाव होने है। आगामी चुनाव को देखते हुए चंद्रबाबू ने इस आश्वासन को पूरा किया। यह कैंटीन योजना एनटीआर की स्मृति में शुरू किए गए, लेकिन लोग इसे दामाद की कैंटीन के नाम से पुकारते हैं। उन्होंने दोहराया है कि चंद्रबाबू और लोकेश ने भ्रष्टाचार को बड़े पैमाने पर बढ़ावा दिया है।

इसे भी पढ़ें :

वाईएसआरसीपी के विधायक श्रीकांत रेड्डी का आरोप, टीडीपी नेता योजनाओं के नाम पर लूटखसोट कर रहे हैं

YSR कांग्रेस पार्टी के विधायक ने आगे कहा है कि आंध्र प्रदेश सरकार ने 'अन्ना कैंटीन' के लिए 400 करोड़ रुपये मंजूर किए हैं। उनके द्वारा बताया गया है कि कुल 163 कैंटीन मंजूर किए गए। जिनकी लागत 59 करोड़ बताई गई। इससे यह पता चलता है कि उन्होंने हर एक कैंटीन के लिए 36 लाख रुपये खर्च किए। इसके मुताबिक प्रति स्क्वैर फीट के लिए 5000 रुपये मूल्य आंका गया।

विधायक रामकृष्णा रेड्डी ने चेतावनी भरे शब्दों में कहा है कि YSR कांग्रेस पार्टी टीडीपी के इस भ्रष्टाचार को कतई माफ नहीं करेगी। उन्होंने कहा है कि जब केंद्र ने टीडीपी को निधी खर्च करने के बारे में स्पष्टीकरण मांगा, तब टीडीपी ने उसके साथ गठबंधन का नाता तोड़ दिया। आगामी चुनाव को देखते हुए चंद्रबाबू ने राजनीतिक पैंतरा बदला है।