नई दिल्ली : आंध्र प्रदेश के लिए विशेष दर्जे की मांग को लेकर YSRCP के सांसदों द्वारा किये जा रहे आमरण अनशन को पुलिस ने आज जबरन तुड़वाया। गत पांच दिनों से आमरण अनशन पर बैठे सांसद मिथुन रे्डडी और अविनाश रेड्डी को उठाकर जबरन अस्पताल भेज दिया गया। इससे दिल्ली में एपी भवन परिसर में तनाव की स्थिति बनी हुई है।

गत पांच दिनों से अनशनरत युवा सांसद मिथुन रेड्डी और अविनाश रेड्डी की तबीयत आज अधिक बिगड़ गई। तेजी से बिगड़ती सांसदों की तबीयत से परेशान डॉक्टरों ने उन्हें तुरंत अनशन तोड़ने को कहा, लेकिन सांसदों के इनकार करने पर पुलिस ने रैपिड एक्शन फोर्स को मैदान में उतारा। YSRCP कार्यकर्ताओं के रोकने के बावजूद रैपिड़ एक्शन फोर्स ने दोनों सांसदों को अनशन शिविर से उठाकर राममनोहर लोहिया अस्पताल भेज दिया।

अनशन शिविर से मिथुन रेड्डी को उठा ले जाती हुई पुलिस 
अनशन शिविर से मिथुन रेड्डी को उठा ले जाती हुई पुलिस 

ये भी पढ़ें :

विशेष दर्जे की मांग को लेकर YSRCP का रेल रोको आंदोलन, पुलिस ने भांझी लाठियां

YSRCP अनशन : सांसदों की बिगड़ी तबीयत, किसी भी वक्त भेजे जा सकते हैं अस्पताल

इस मौके पर एपी भवन में विशेष दर्जे की मांग को लेकर नारे लगाए गए। वाईसीपी नेताओं व कार्यकर्ताओं ने सांसदों को अस्पताल ले जाने से रोकने की भरसक प्रयास किया और इसी के तहत एंबुलेन्स के सामने बैठकर अपना विरोध प्रकट किया। इसी बात को लेकर पुलिस और YCP कार्यकर्ताओं के बीच धक्कामुक्की भी हुई। पुलिसकर्मियों ने प्रदर्शनकारियों को जबरन वहां से हटाकर भारी तनाव बीच सांसदों को एंबुलेन्स में वहां से भिजवा दिया।