नयी दिल्ली: बहुचर्चित चारा घोटाला मामले में रांची में जेल की सजा काट रहे राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद को विशेष इलाज के लिए आज यहां एम्स में भर्ती कराया गया। केन्द्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा ने एम्स जा कर लालू से मुलाकात की और उनकी तबीयत के बारे में जानकारी हासिल की। मंत्री ने ट्वीट कर यह जानकारी दी।

रांची के राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) ने लालू को दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के लिए रेफर किया था। एम्स के एक चिकित्सक ने बताया , "उनकी हालत स्थिर है। उन्हें दोपहर में यहां लाया गया। उनके रक्त में शुगर की मात्रा थोड़ी बढ़ी हुई है और उनके गुर्दे में संक्रमण है।'' उन्होंने बताया कि लालू को मेडिसिन विभाग में भर्ती कराया गया है। लालू को बेचैनी की शिकायत के बाद 17 मार्च को राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) में भर्ती कराया गया था। सीबीआई की विशेष अदालत से एम्स में इलाज कराने की अनुमति मिलने के बाद वह कल रेलगाड़ी से दिल्ली रवाना हुए थे।

यह भी पढ़ें:

दर्द से परेशान हैं लालू प्रसाद, इस बीमारी के इलाज के लिए RIMS में शिफ्ट

बिहार में नीतीश का राज खत्म, भाजपा पूरे राज्य में लगा रही आग : लालू यादव

चारा घोटाला मामले में शुरूआत से लालू की पैरवी कर रहे उनके वकील चित्तरंजन सिन्हा ने बताया कि 69 वर्षीय नेता मधुमेह, रक्तचाप से पीडित हैं और उनका क्रीटनाइन का स्तर बढ़ा हुआ है। उन्होंने कहा, "उनकी स्थिति विमान से यात्रा करने की नहीं थी और रिम्स के चिकित्सकों ने उन्हें ट्रेन से जाने की सलाह दी थी।''

हालांकि इस बारे में कहा जा रहा है कि खुद लालू प्रसाद ने फ्लाइट से जाने की इच्छा जाहिर की थी, जिसे अस्वीकार कर दिया गया। लालू प्रसाद की बेटी ने पिता के खिलाफ साजिश का आरोप लगाया और कहा कि राजद नेता को तंग किया जा रहा है।

दिल्ली रवाना होने से पहले लालू प्रसाद ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। उन्होने कहा, "नीतीश कुमार अब खत्म हो चुके हैं। बिहार में कई जगह दंगे फसाद हो रहे हैं। भाजपा के नेता दंगा करवाने में लगे हैं।"

एम्स की ओर से मिली आधिकारिक जानकारी के मुताबिक लालू प्रसाद का स्वास्थ्य तेजी से सुधर रहा है। फिलहाल एम्स के बड़े डॉक्टरों की देखरेख में लालू का इलाज किया जा रहा है।