नई दिल्ली : कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने रविवार को नोटबंदी को अब तक का सबसे बड़ा झूठ करार दिया और कहा कि इसने नौकरियों को समाप्त कर दिया है।

कांग्रेस नेता ने केंद्र पर 'दोषपूर्ण' वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू कर लोगों को गरीबी की ओर धकेलने का भी आरोप लगाया।

ये भी पढ़ें--

चिदंबरम की नजर में इन दो सेक्टर ने बढ़ाई एनपीए की समस्या

कांग्रेस अधिवेशन में पार्टी की आर्थिक नीति पेश करने के बाद चिदंबरम ने यहां कहा, "नोटबंदी से बड़ा कोई झूठ नहीं हो सकता।"

उन्होंने भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) पर निशाना साधा और कहा कि बैंक ने राष्ट्र को नहीं बताया कि उसे विमुद्रीकृत मुद्रा की कुल कितनी रकम वापस मिली।

उन्होंने कहा, "नोटबंदी एक बड़ा झूठ था। आरबीआई अभी भी गणना कर रहा है और उसने हमें नहीं बताया कि कितना पैसा वापस आया।"