कोलम्बो : रोहित शर्मा की टीम इंडिया ने फाइनल मुकाबले में बांग्लादेश को 4 विकेट से हराकर निदहास टी-20 ट्राई सीरीज की ट्रॉफी पर कब्जा जमा लिया है। इसी के साथ टीम इंडिया ने नॉक आउट मैचों में बांग्लादेश के खिलाफ अपना अजेय रिकॉर्ड बरकरार रखा है।

टीम इंडिया की बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 इंटरनेशनल में लगातार यह आठवीं जीत है।  बता दें कि टीम इंडिया और बांग्लादेश के बीच आठ मैच खेले जा चुके हैं और सभी में भारतीय टीम को जीत मिली है।

इससे पहले शब्बीर रहमान (77) की तेज अर्धशतकीय पारी के दम पर बांग्लादेश क्रिकेट टीम ने रविवार को आर. प्रेमदासा स्टेडियम में जारी निदास ट्रॉफी टी-20 त्रिकोणीय सीरीज के फाइनल में भारत के सामने 167 रनों का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य रखा है।

भारत ने टॉस जीतकर बांग्लादेश को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया और फिर युजवेंद्र चहल (18/3) के नेतृत्व में अपने गेंदबाजों के अच्छे प्रदर्शन की बदौलत उसे 20 ओवरों में आठ विकेट पर 166 रनों पर सीमित किया।

शब्बीर ने 50 गेंदों का सामना कर सात चौके और चार छक्के लगाए। बांग्लादेश की ओर से सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल ने 15, लिटन दास ने 11 और महमुदुल्लाह ने 21 रन बनाए।

महमुदुल्लाह और कप्तान शाकिब अल हसन (7) रन आउट हुए। अंतिम ओवर में मेहेदी मिराज ने ताबड़तोड़ अंदाज में खेलते हुए सात गेंदों पर दो चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 19 रन बनाकर अपनी टीम सम्मानजनक योग तक पहुंचाया।

भारत की ओर से जयदेव उनादकट ने भी दो विकेट लिए जबकि वॉशिंगटन सुंदर ने एक सफलता पाई।

बांग्लादेश की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसने 33 रन पर ही तीन विकेट गंवा दिए थे लेकिन रहमान ने एक छोर पर टिके रहकर रन रेट को मेंटेन रखा। 68 के कुल योग पर मुशफिकुर रहीम (9) का विकेट गिरने के बाद रहमान ने महमुदुल्लाह के साथ मिलकर स्कोर को 100 के पार पहुंचाया।

महमुदुल्लाह 104 रन के कुल योग पर आउट हुए। महमुदुल्लाह ने 16 गेंदों पर दो चौके लगाए। इसके बाद रहमान ने कप्तान के साथ पारी को आगे बढ़ाया लेकिन शाकिब 133 के कुल योग पर रन आउट कर दिए गए।

टी-20 करियर का चौथा अर्धशतक लगाने वाले रहमान का विकेट 147 के कुल योग पर गिरा। उनादकट ने 19वें ओवर की लगातार दो गेंदों पर रहमान के अलावा रुबेल हुसैन (0) को भी चलता किया।

ऐसा लगा कि भारतीय गेंदबाज बांग्लादेश को 150-155 तक सीमित कर देंगे लेकिन मेहेदी ने शार्दूल ठाकुर द्वारा फेंके गए अंतिम ओवर में 18 रन लेकर समीकरण ही बदल दिया। शार्दूल ने चार ओवरों मे 45 रन दिए।