बैतूल : मध्य प्रदेश में लगातार मनचलों की हरकत से परेशान होकर छात्राओं द्वारा खुदकुशी किए जाने की लगातार आ रही खबरों के बीच बुधवार को बैतूल जिले में एक और छात्रा के आत्महत्या करने की खबर आई। छात्रा की ओर से पुलिस में शिकायत की गई, मगर पुलिस पूरी तरह निष्क्रिय रही, परिणामस्वरूप छात्रा को यह कदम उठाना पड़ा।

शाहपुर विकासखंड के भौंरा पुलिस चौकी के अधीन आने वाले कामठी गांव की छात्रा प्रभा पांडेय (बदला हुआ नाम) बीए फाइनल में पढ़ती थी और उनकी शादी होने वाली है। जया के परिजनों का कहना है कि उसे लगातार गांव का ही युवक ब्रजेश परेशान किया करता था, साथ ही धमकाता भी था। छात्रा ने बुधवार की दोपहर को पुलिस चौकी पहुंचकर शिकायत भी दी, मगर पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया।

इन्हें भी पढ़ें

लड़की की आत्महत्या के बाद पकड़े गए स्कूल के दो अधिकारी एवं शिक्षक गिरफ्तार..जानें क्यों

लड़की की हो गई हत्या, पिता ने जताया बेटे पर शक

मोबाइल के प्रति दीवानगी ने ऐेसे ले ली लड़की की जान..जानें कैसे

बिहार में सिरफिरे आशिक ने चाकू गोदकर लड़की की हत्या की

प्रभा के चाचा जसवंत चौरे ने संवाददाताओं को बताया कि प्रभा के द्वारा आत्महत्या करने की सूचना भौंरा पुलिस को दे दी गई, लेकिन देर रात तक कोई भी मौके पर नहीं पहुंचा। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस के द्वारा प्रभा की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए यदि दिन में आरोपी युवक के खिलाफ कार्रवाई कर दी जाती तो शायद वह यह कदम नहीं उठाती।

उन्होंने बताया कि प्रभा ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि ब्रजेश असवारे मुझे परेशान कर रहा था, इसलिए मैं अपनी जान दे रही हूं। पुलिस अधीक्षक डीआर तेनीवार ने संवाददाताओं से कहा, "छात्रा के उस लड़के साथ संबंध थे इसलिए वह उसे बार-बार परेशान कर रहा था, इसी के कारण छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इस मामले की जांच में यदि पुलिस की भी लापरवाही उजागर होगी तो कार्रवाई की जाएगी।"

गौरतलब हो कि इससे पहले राजधानी भोपाल में दो दिन पहले गीतांजलि महाविद्यालय की छात्रा आरती ने मनचले से परेशान होकर जान दे दी थी। इसी तरह भोपाल के ही मिसरोद थाना क्षेत्र में एक युवती ने मंगेतर द्वारा शादी में अंगूठी व कपड़ों की मांग किए जाने से परेशान होकर आत्महत्या कर ली।