अलीगढ़: यूपी यू.पी. बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने के लिए योगी सरकार कमर कसे है। जबकि इन करतूतों को बढ़ावा देने वाले बाज नहीं आ रहे हैं। ताजा मामले में अलीगढ़ के बोहरे किशन लाल शर्मा इंटर कॉलेज के प्रबंधक के घर पर खुल्लमखुल्ला नकल के खेल का उद्भेदन हुआ। जहां बाहर के लोग ढाई तीन हजार के मेहनताने पर परीक्षार्थियों की कॉपियां लिख रहे थे।

दरअसल प्रशासन को इस गोरखधंधे की सटीक सूचना मिली थी। इसके बाद आनन फानन में कॉलेज प्रबंधक के यहां छापेमारी की गई। जहां तीन छात्राओं सहित पांच दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया गया।

बता दें कि योगी सरकार ने काफी पहले ही एलान कर दिया था कि इस बार नकल माफियाओं को वे नहीं छोड़ेंगे। जिस तरह से कार्रवाई हो रही है ऐसे में नकलचियों में खौफ का माहौल है।

यूपी में नकल की संस्कृति कि चर्चा होती है तो सबसे पहले नाम आता है अतरौलिया बोर्ड का। ये इलाका कल्याण सिंह का है, जो नकल को लेकर कुख्यात रहा है। इस इलाके में भी प्रशासन काफी सक्रिय है। ताजा गिरफ्तारियों के बाद नकल माफिया अब सकते में नजर आ रहे हैं।