नई दिल्ली : भारतीय इंटेलीजेन्स खेमे में खलबली मच गई है। दिल्ली की स्पेशल पुलिस ने पाकिस्तान को खुफिया जानकारी लीक करने के आरोप में एयरफोर्स के ग्रुप कैप्टन को गुरुवार देर रात गिरफ्तार किया है।

वायुसेना की काउंटर इंटेलीजेंस शाखा ने ग्रुप कैप्टन पर गत कुछ महीनों से पाकिस्तान की खुफिया एजेन्सी आईएसआई को खुफिया जानकारी लीक करने का आरोप लगाया है। अरूण मारवाह ने अपने व्हाट्सअप के जरिए आईएसआई के अधिकारी को कुछ फोटो और कुछ डाकुमेंट्स भेजे हैं।

अधिकारियों का कहना है कि मारवाह ने पाकिस्तान की खुफिया एजेन्सी को महत्वपूर्ण दस्तावेज सौंपे हैं। मारवाह के खिलाफ मामला दर करने के बाद पुलिस ने पूछताछ के लिये उन्हें पांच दिन के लिये हिरासत में लिया है। फिलहाल एक गोपनीय जगह पर आरोपी अधिकारी से पूछताछ की जा रही है।

इस तरह हनीट्रैप में फंसे मारवाह

बताया जाता है कि ISI एजेंट ने लड़की बनकर ग्रुप कैप्टन अरुण मारवाह से फ्रेंडशिप किया। इसके बाद दोनों के बीच फोन पर लगातार अश्लील चैटिंग होने लगी और एजेंट ने बातों- बातों में मारवाह से गोपनीय दस्तावेज मांगे और मारवाह द्वारा कुछ दस्तावेज उसे मुहैया कराने के आरोप हैं। परंतु मारवाह ने कौन से दस्तावेज आईएसआई एजेंट को लीक किये हैं, यह स्पष्ट नहीं हुआ है।