नई दिल्ली : सोशल मीडिया में आए दिन कोई न को वीडियो वायरल होता रहता है, ऐसा ही एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया में वायरल हुआ है जो कि एक बीएसएफ जवान का है, जो कि इस समय बंगाल बॉर्डर पर तैनात है।

दरअसल वायरल हुए वीडियो में जवान ने उत्तरप्रदेश के सीएम योगी और प्रधानमंत्री मोदी से अपने परिवार के लिए न्याय की गुहार लगाई है। इसके साथ ही जवान ने वीडियो में परिजनों को न्याय न मिलने पर हथियार उठाने की धमकी भी दी है। जवान का नाम अजय कुमार है, जिन्होंने वीडियो में कहा कि मैंने सरहद की रक्षा के लिए हथियार उठाए हैं। मुझे इतना मजबूर मत करो। मगर अब मैं अपने परिवार की रक्षा के लिए हथियार उठाऊंगा, जिसका जिम्मेदार पुलिस-प्रशासन होगा।

ट्रिपल आईटी छात्र ने की आत्महत्या

“दूसरा बेटा होता तो उसे भी सेना में भेजती”, शहीद की मां के जज्बात

दरअसल जवान का आरोप है कि ग्राम प्रधान की मदद से पुलिस ने उसकी फसल पर ट्रैक्टर चलवा दिया था। पिता और भाई पर मुकदमा लिख पुलिसकर्मियों ने उन्हें जेल भेज दिया और बहनों को वांछित कर दिया। पुलिस की इस करतूत का वीडियो भी वायरल हुआ था। बावजूद इसके सीओ ने अपनी जांच रिपोर्ट में पुलिसकर्मियों को निर्दोष करार कर परिवार पर ही सारा आरोप लगा दिया। जवान ने पुलिस के खिलाफ पहले सीएम और फिर पीएम को पत्र लिखा, लेकिन अभी तक मदद नहीं मिली। बता दें कि गंगोह के गांव तातारपुर निवासी अजय सिंह बीएसएफ के 102 बटालियन में तैनात है। इन दिनों उनकी पोस्टिंग बंगाल बॉर्डर पर है।

वहीं इस मामले में पुलिस का कहना है कि पुलिस नेतृत्व में एक टीम अवैध कब्जे को हटवाने के लिए गई थी। भूमि विवाद के निस्तारण के दौरान ही लेखपाल और उनकी टीम पर हमला किया गया। जिसके बाद लेखपाल ने परिवार के खिलाफ मुकदमा लिखवाया। मुकदमे की जांच की जा रही है, उसके आधार पर ही कार्रवाई की जाएगी।