नई दिल्ली : सेना दिवस के मौके पर आज सुबह अमर जवान ज्योति पर जाकर तीनों सेना के प्रमुखों ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर थल सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत, नेवी चीफ सुनील लांबा और एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने शहीदों को याद किया।

इसके बाद थल सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने करिअप्पा मैदान में परेड की सलामी ली। साथ ही शहीद जवानों के परिजनों को सम्मानित किया गया। प्रत्येक वर्ष 15 जनवरी को सेना दिवस मनाया जाता है।

1949 में आज ही के दिन भारतीय सेना पूरी तरह ब्रिटिश सेना से अलग और आजाद हो गई थी। फील्ड मार्शल के एम करिअप्पा स्वतंत्र भारत के पहले थल सेना प्रमुख बने थे। उसके बाद से ही 15 जनवरी को सेना दिवस मनाया जाता है।

यह भी पढ़ें :

भारत-चीन सीमा पर शांति बनाए रखने पर सहमत हो गए दोनों देश

सीमा पर शांति के लिए अपने सैनिकों पर नियंत्रण रखे भारत : चीन

अरुणाचल के अस्तित्व पर चीन ने खड़े किए सवाल, कहा- भारत में नहीं है यह राज्य