श्रीनगर : जम्मू एवं कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के चेयरमैन मोहम्मद यासीन मलिक को बुधवार को श्रीनगर में गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं, वरिष्ठ अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक को नजरबंद किया गया है। यासीन मलिक को अबी गुजर पार्टी कार्यालय से एहतियातन हिरासत में लिया गया।

यासीन मलिक एक रैली निकालने की कोशिश कर रहा था। उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि कश्मीर में एक तरफ भारत सरकार हीलिंग टच की बात कर रही है और दूसरी तरफ लोगों पर ऑल आउट के नाम पर जुल्म किए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें :

श्रीनगर : दो दिन से छुपा अलगाववादी नेता यासीन मलिक गिरफ्तार

ईडी ने अलगाववादी नेता यासीन मलिक को फेमा नोटिस जारी किया

इससे पहले, अधिकारियों ने मीरवाइज उमर फारूक को श्रीनगर के बाहरी इलाके के उनके निगीन स्थित निवास में नजरबंद कर दिया। नजरबंद किए जाने पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए मीरवाइज उमर ने ट्वीट किया, "तीन दिनों के बाद फिर से नजरबंद कर दिया गया। उन्मादी तानाशाह राज्य की बदहवासी दिन प्रतिदिन और गंभीर होती जा रही है।"

-आईएएनएस