तिरूमला: वैकुंठ एकादशी के संदर्भ में तिरुमला में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ टूट पड़ी है। श्रद्धालुओं को भगवान बालाजी के दर्शन के लिए 30 घंटे इंतजार करना पड़ रहा है। शुक्रवार तड़के उत्तर कपाट को जियरा स्वामी ने खोला।

धनुर्मास पूजा अर्चना के बाद वीआईपी दर्शन आरंभ हुआ। आम श्रद्धालुओं को भगवान बालाजी के दर्शन के लिए 30 घंट से भी ज्यादा समय लग रहा है।लोगों को रहने की व्यवस्था ना होने के कारण कड़ाके की ठंड में कतार में खडे हैं। वैकुंठ एकादशी के संदर्भ में टीटीडी ने 3563 वीआईपी टिकट जारी किये।

तिरुमला में रहने की व्यवस्था ना होने से कंपार्टमेंट में ही आराम फरमाते लोग
तिरुमला में रहने की व्यवस्था ना होने से कंपार्टमेंट में ही आराम फरमाते लोग

आज जिन प्रमुख लोगों ने भगवान बालाजी के दर्शन किये उनमें जस्टिस एन.वी रमणा के अलावाजस्टिस संतान गौड़,उच्च न्यायालय के न्यायाधीश रामलिंगेश्वर राव, शंकर नारायण,सुनील चौधरी, अमरनाथ गौड,नागार्जुन रेड्डी, सत्ता पक्ष मंत्री, सांसद अवंती श्रीनिवास,रायपाटी सांबशिव राव,सी.एम.रमेश,राममोहन नायुडू,तेलंगाना के विधायक श्रीनिवास गौड,संड्रा वेंकट वीरय्या,डी.अरुणा के अलावा पिल्म अभिनेता मोहन बाबू, मुख्यमंत्री नारा चन्द्रबाबू नायुडू की पत्नी भुवनेशवरी के अलावा कई लोग उपस्थित थे।