इस्लामाबाद : कथित जासूसी के आरोप में पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव से उनकी मां और पत्नी ने कड़ी सुरक्षा के बीच सोमवार को पाकिस्तान विदेश कार्यालय में मुलाकात की। हालांकि तस्वीर सामने आने के बाद मीडिया में इसे लेकर एक नई चर्चा शुरू हो गई है।

मुलाकात की जो तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई, उसमें कुलभूषण जाधव कांच की दीवार की एक तरफ हैं, जबकि उनकी मां और पत्नी दीवार की दूसरी तरफ हैं। कुलभूषण आज 22 महीने बाद अपने परिवार से मिले। सभी ने इंटरकॉम से बात की।

पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, 30 मिनट की यह मुलाकात भारतीय उप उच्चायुक्त जे.पी. सिंह की मौजूदगी में 1 बजकर 48 मिनट पर शुरू हुई।

यह भी पढ़ें :

कुलभूषण जाधव के भारतीय जासूस होने के दावे से पीछे हटा पाकिस्तान

पाकिस्तान का दावा, कुलभूषण के बदले आतंकवादी देने का मिला था प्रस्ताव

कुलभूषण मामले में हरीश साल्वे कितनी फ़ीस ले रहे हैं, जानकर हैरान होंगे आप!

इससे पहले विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने इस मुलाकात से पहले जाधव की मां अवंति और उनकी पत्नी की तस्वीर ट्वीट की। उन्होंने कहा था कि 'दोनों पाकिस्तान विदेश मंत्रालय में आराम से बैठी हैं। हमने अपनी प्रतिबद्धता निभाई है।'

पहले के एक अन्य ट्वीट में फैसल ने कहा था कि पाकिस्तान के संस्थापक मुहम्मद अली जिन्ना की पुण्यतिथि के अवसर पर मानवीय आधार पर यह इजाजत दी गई है।