इस्लामाबाद: जासूसी के कथित आरोप में पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय कुलभूषण जाधव की पत्नी और उनकी मां 25 दिसंबर को पाकिस्तान आएंगी। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने यह जानकारी दी।

विदेश मंत्रालय ने यह भी बताया कि जाधव की पत्नी और उनकी मां 25 दिसंबर को यहां पहुंचेंगी।यहां पहुंचने के बाद वे जेल जाकर जाधव से मुलाकात करेगी और उसी दिन वापस लौट जाएंगी। भारतीय उप उच्चायुक्त उनके साथ आने वाले राजनयिक होंगे।

विदेश विभाग के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने ट्वीट कर कहा, 'भारत ने सूचित किया है कि कमांडर जाधव की पत्नी और मां उनकी 25 दिसंबर को विमान से यहां आएंगी और उसी दिन वापस लौट जाएंगी। इस्लामाबाद में भारतीय उप उच्चायुक्त उनके साथ रहने वाले राजनयिक होंगे।'

बता दें कि पाकिस्तान ने 20 दिसंबर को जाधव की पत्नी और उनकी मां के लिए वीजा जारी किया था। पाकिस्तान ने इस बात पर भी सहमति जताई थी कि इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग का एक राजनयिक उनके साथ होगा।

पाकिस्तान ने गुरुवार को कहा था कि जाधव को तत्काल फांसी का कोई खतरा नहीं है। पाकिस्तानी विदेश विभाग के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फैसल ने कहा था कि पाकिस्तान ने जाधव की मां और उनकी पत्नी को उनसे मुलाकात की अनुमति पूरी तरह मानवीय आधार पर दी है।