पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद यादव पर निशाना साधते हुए कहा है कि घोटालों को उजागर करना और घोटालेबाजों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करना ही घोटाला है।

नीतीश ने लालू का नाम लिए बिना ट्वीट के जरिये उन पर लगातार चौथे दिन आज निशाना साधते हुए कहा, घोटालों को उजागर करना और घोटालेबाजों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करना ही घोटाला है।

नीतीश कुमार ने लालू प्रसाद पर तंज कसते हुए आरोप लगाया है कि लालू प्रसाद अपने बटों और परिजनों से गाली गलौज करवाते हैं। जिसे सद्भावना और साझी विरासत का नाम दिया जाता है। हालांकि नीतीश ने कहीं भी ट्वीट में लालू का नाम नहीं लिया है। लेकिन उनका ट्वीट सीधे तौर पर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के लिए ही है।

बता दें कि हाल के दिनों में लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने बिहार के उपमुख्यमंत्री और पीएम मोदी के खिलाफ असम्मानजनक टिप्पणियां की हैं।

नीतीश ने कल कटाक्ष करते हुए ट्वीट किया था भ्रष्टाचार शिष्टाचार है। उसके खिलाफ कार्वाई अनाचार है। गत 29 नवंबर को नीतीश ने ट्वीट के जरिए लालू पर कटाक्ष किया था जान की चिंता, माल-मॉल की चिंता, सबसे बडी देशभक्ति है। उल्लेखनीय है कि लालू ने अपने सुरक्षा कवर जेड प्लस श्रेणी से घटाकर जेड श्रेणी किए जाने को केंद्र सरकार की कथित साजिश करार देते गत 26 नवंबर को कहा था कि उनके साथ अगर कोई घटना घटती है तो इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जिम्मेदार होंगे।