नई दिल्ली : कांग्रेस और उसके विभिन्न संगठन नोटबंदी की घोषणा के एक वर्ष पूरा होने पर आज राष्ट्रीय राजधानी सहित देश भर में काला दिवस मनायेंगे और पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी सूरत में कपड़ा तथा अन्य व्यवसायियों के साथ बातचीत कर उनकी व्यथा को जानेंगे।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बताया, राहुल गांधी बुधवार को सूरत में कपड़ा और अन्य व्यवसायियों के साथ बातचीत कर उनकी व्यथा को साझा करेंगे। जीएसटी और नोटबंदी के कारण गुजरात के इस शहर का व्यवसाय और इसमें लगे लोग बुरी तरह प्रभावित हुए हैं।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने गुजरात में कहा कि पिछले एक साल में अकेले सूरत शहर में 21 हजार लोगों की नौकरी गयी है। पार्टी सूत्रों के अनुसार राहुल आज शाम साढ़े पांच बजे सूरत के संजीव कुमार सभागार में व्यवसायियों से परिसंवाद करेंगे। वह रात साढ़े सात बजे शहर के चौक बाजार में विवेकानंद प्रतिमा के पास कैंडललाइट मार्च में भाग लेंगे।

सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस नोटबंदी के खिलाफ भुगत रहा है देश शीर्षक से देश भर में विरोध प्रदर्शन करेगी। उन्होंने कहा कि नोटबंदी इस सदी का सबसे बड़ा घोटाला है। भारतीय अर्थव्यवस्था इसके दुष्प्रभावों के शिकंजे से अभी तक नहीं निकल पायी है।

यह भी पढ़ें :

नोटबंदी, जीएसटी पर देश का मन नहीं समझे मोदी : राहुल गांधी

जीएसटी, नोटबंदी का सकारात्मक असर हुआ है: वित्त मंत्री अरुण जेटली

“फेल रही नोटबंदी, गलत तरीके से लागू हुआ GST, डर से नहीं बोल रहे भाजपाई”

पार्टी सूत्रों के अनुसार भारतीय युवा कांग्रेस, महिला कांग्रेस, एनएसयूआई और सेवा दल यहां जंतर मंतर मार्ग पर नोटबंदी-एक संगठित लूट विरोध प्रदर्शन करेगी। इस अवसर पर नोटबंदी के कारण लोगों को हुई परेशानी पर आधारित नुक्कड़ नाटक होगा। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कनाट प्लेस के इनर सर्किल में नोटबंदी के विरोध मानव श्रृंखला बनाकर करेगी।

उन्होंने बताया कि कांग्रेस सभी राज्यों में शाम को एक कैंडल मार्च निकालेगी। यह कैंडल मार्च उन लोगों की याद में निकाला जाएगा, जिन्होंने नोटबंदी के बाद बैंक एवं एटीएम के बाहर पंक्तियों में खड़े रहने के दौरान अपनी जान गंवायी।

कांग्रेस प्रवक्ता अजय कुमार ने कहा कि नोटबंदी के कारण अर्थव्यवस्था की बुरी स्थिति हो गयी है और इसने आम आदमी की कमर तोड़ दी। उन्होंने कहा कि जिस तरह से नोटबंदी और जीएसटी लागू होने के कारण लघु एवं मझोले उद्योग बंद हुए और हजारों की संख्या में लोगों की नौकरी गयी है, उससे अर्थव्यवस्था पर जो प्रभाव पड़ा है वह लंबे समय तक रहेगा।

उन्होंने कहा कि पार्टी झारखंड सहित देशभर में रैली और मार्च निकालेगी। पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने बताया कि पूरे राज्य में पार्टी कार्यकर्ता हर जिला मुख्यालय पर नोटबंदी के विरोध में धरना-प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि नोटबंदी एक ऐसा फैसला है, जिसने समाज के सभी वर्गों को बुरी तरह प्रभावित किया है।