नई दिल्ली : शरद यादव के नेतृत्व वाले जनता दल (यूनाइटेड) के गुट ने आज चुनाव आयोग (ईसी) का रुख करते हुए दावा किया कि वह ' 'असल ' ' पार्टी का प्रतिनिधित्व करते है और राष्ट्रीय परिषद के ज्यादातर सदस्य उनके साथ हैं।

जद (यू) के यादव को पत्र लिखे जाने के एक दिन बाद यह घटनाक्रम सामने आया है। जद (यू) ने पत्र में उनसे रविवार को पटना में होने वाली राष्ट्रीय जनता दल(राजद) की रैली में शामिल नहीं होने के लिए कहा गया था। यह भी कहा गया था कि यदि वह इसमे शामिल होते है तो वह ' ' पार्टी के सिद्धांतों ' ' के खिलाफ काम करेंगे।

अपने महासचिव के सी त्यागी द्वारा यादव को भेजे एक राजनीतिक संदेश में कहा गया है कि इसका मतलब यह होगा कि वह स्वेच्छा से पार्टी छोड़ रहे हैं।

यादव ने इससे पहले कहा था कि वह राजद की रैली में शामिल होंगे और कल पटना के लिए रवाना होंगे। जद (यू) के बागी नेता के एक करीबी सहयोगी और पार्टी के पूर्व महासचिव अरण श्रीवास्तव ने पत्रकारों को बताया कि उनके गुट ने ईसी को बताया है कि ज्यादातर पार्टी कार्यकर्ता, राष्ट्रीय परिषद के सदस्य और राज्यों के अध्यक्ष उनके साथ हैं