नई दिल्ली : दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने एमसीडी चुनाव में कांग्रेस की हार के लिए स्थानीय नेतृत्व की संलिप्तता की कमी को जिम्मेदार बताते हुए आज आरोप लगाया कि अजय माकन के नेतृत्व में दिल्ली कांग्रेस लोगों तक पहुंच नहीं सकी।
शीला ने कहा, ‘‘पार्टी (मतदाताओं तक) उस तरह पहुंच नहीं बना पाई, जिस तरह उसे बनानी चाहिए थी। जब आप कुछ करना नहीं चाहते तो कोई भी बहाना बनाया जा सकता है। आला कमान को फैसला करना होगा। नेतृत्व को आत्मविश्लेषण करने की आवश्यकता है।

यह भी पढ़े :

बालाघाट में प्रशिक्षु हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, 2 की मौत, रामेश्वरम तट पर फंसा हुवरक्रॉफ्ट

MCD चुनाव : शहीद जवानों को भाजपा समर्पित करेगी अपनी जीत, नहीं मनाएगी जश्न

एमसीडी चुनाव में भाजपा की आंधी, दूसरे नंबर पर आप, कांग्रेस अंतिम पर खिसकी

पूर्वाह्न 11 बजे तक की मतगणना के बाद 233 वार्डों के उपलब्ध रझानों के अनुसार कांग्रेस इनमें से मात्र 26 वार्डों में आगे है। पार्टी अभी तक कोई सीट भी नहीं जीत नहीं है, जबकि भाजपा ने सात और आप ने एक-एक सीट पर जीत प्राप्त की है।

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री ने इस बात पर दुख प्रकट किया कि माकन चुनाव प्रचार मुहिम में उनके (शीला) समेत वरिष्ठ नेताओं को शामिल करने में असफल रहे। शीला ने कहा, ‘‘मुझे चुनाव प्रचार के लिए कहा ही नहीं गया था, तो मैं प्रचार कैसे कर सकती थी। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस मतदाताओं तक पहुंचने में भी नाकाम रही। पार्टी आलाकमान इस मामले को देखेगा।