नई दिल्ली : दिल्ली नगर निगम चुनाव के लिए भाजपा ने कई बड़े-बड़े दावे किए हैं। हालांकि उसके दावे उम्मीदवारों की पहली सूची में ही हवा-हवाई होते नजर आए। भले ही भाजपा ने इस बार मौजूदा पार्षदों को टिकट नहीं देने का फैसला किया है, लेकिन कइयों के रिश्तेदारों को पार्टी ने उम्मीदवार जरूर बना दिया है।

एमसीडी चुनावों के लिये भाजपा ने रविवार को 160 उम्मीदवारों की अपनी पहली सूची की घोषणा की है। भाजपा चार मुस्लिम उम्मीदवारों के साथ नये चेहरों को चुनाव मैदान में उतारने जा रही है।

सूची में शामिल मुस्लिम उम्मीदवारों में जाकिर नगर (एसडीएमसी) से कुंवर रफी, चौहान बंगेर से सरताज अहमद और मुस्तफाबाद से सब्र मलिक (ईडीएमसी) और दिल्ली गेट (एनडीएमसी) से फमुद्दीन सफी के नाम शामिल हैं।

यह भी पढ़ें :

एमसीडी चुनाव : नामांकन का आज आखिरी दिन, प्रत्याशियों ने कसी कमर

दिल्ली : एमसीडी चुनाव से पहले आप विधायक भाजपा में शामिल

उनके अलावा उम्मीदवारों में प्रदेश इकाइयों के अध्यक्ष, पूर्व पार्षद, विधायक के उम्मीदवार और कार्यकर्ताओं के रिश्तेदार शामिल हैं।

महिला मोर्चा की शिखा राय को ग्रेटर कैलाश से टिकट दिया गया है। साथ ही शाहदरा और नवीन शाहदरा के अध्यक्ष को टिकट मिला है। दिवंगत सुनील वैद की पत्नी को भी टिकट दिया गया है।

चांदनी चौक से पूर्व विधायक वासुदेव कप्तान के बेटे रवि कप्तान को टिकट मिला है। भाजपा ने दिल्ली भाजपा महिला मोर्चा की पूर्व अध्यक्ष कमलजीत सहरावत को द्वारका-बी से चुनाव मैदान में उतारा है।

पहली सूची में भाजपा ने दक्षिण दिल्ली, पूर्वी दिल्ली और उत्तरी दिल्ली नगर निगमों के लिये क्रमश: 58, 35 और 67 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की है।