नई दिल्ली : मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की महिला शाखा मुस्लिम वेलफेयर मंच ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘तीन तलाक से परेशान' मुस्लिम महिलाओं को सहारा दिया और इसी का नतीजा रहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा को मुसलमान समाज खासकर महिलाओं का भरपूर समर्थन मिला।

मुस्लिम वेलफेयर मंच की प्रमुख शहनाज अफजाल ने मुस्लिम महिलाओं के सम्मेलन में कहा, ‘‘मुस्लिम महिलाएं तीन तलाक से परेशान हैं। उत्तर प्रदेश में मुस्लिम समाज की महिलाओं का बहुत बुरा हाल है। जुल्म से परेशान इन महिलाओं को मोदी जी ने सहारा दिया है। मोदी जी ने मुस्लिम महिलाओं के आंसू पोंछे हैं। आज मुस्लिम महिलाएं महसूस कर रही हैं कि उनके साथ कोई खड़ा है।''

यह भी पढ़ें :

बेअसर रही बसपा के पक्ष में मुस्लिम धर्मगुरूओं की अपील

मुस्लिम लड़की ने जीता भागवत गीता वाचन प्रतियोगिता

प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में मुस्लिम बुनकरों को तरक्की की उम्मीद

उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री जी ने जो पहल की है, उसी का नतीजा रहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मुसलमान समाज खासकर महिलाओं ने भाजपा को भरपूर समर्थन दिया और इस वजह से भाजपा को इतना बड़ा जनादेश मिला है।''

शहनाज ने कहा, ‘‘मुस्लिम समाज को भाजपा और आरएसएस से डराया जाता रहा है। मैं पूछना चाहती हूं कि किस बात का डर? मुसलमानों को यहां किसी तरह का डर नहीं है। उनको सिर्फ गुमराह किया जाता रहा है। लोगों को यह बात समझ आने लगी है।'' इस कार्यक्रम में साइमा निजामी, रेशमा यासमीन, रेशमा हसन और यासिर जिलानी ने भी अपने विचार रखे।