नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 4 फरवरी को पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ से राज्य विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी के चुनावी अभियान की शुरुआत करेंगे। पार्टी सूत्रों के मुताबिक पहले दो चरणों के चुनाव के लिए पीएम की चार रैलियों के कार्यक्रम तय कर लिए गए हैं।

मेरठ के बाद पीएम मोदी 7 फरवरी को अलीगढ़ में होंगे, वहां भी उनकी एक बड़ी रैली आयोजित की जा रही है। इसके बाद 10 फरवरी को बिजनौर और 12 फरवरी को पीलीभीत में प्रधानमंत्री की रैली होगी। गौरतलब है कि बीजेपी ने यूपी में मुख्यमंत्री पद का कोई उम्मीदवार घोषित नहीं किया है। पार्टी वहां पीएम मोदी के नाम और काम पर ही चुनाव लड़ रही है। माना जा रहा है कि पीएम मोदी हर चरण के चुनाव के लिए कम से कम दो रैलियों को संबोधित करेंगे।

राज्य में सात चरणों में चुनाव हो रहे हैं। इस लिहाज से पीएम की 14 रैलियां हो सकती हैं। चुनाव से पहले 'परिवर्तन यात्रा' के दौरान उनकी सात रैलियां हो चुकी हैं। यानी यूपी चुनाव के लिए पीएम कुल 20-21 रैलियां करेंगे। ये संख्या बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान हुई उनकी रैलियों की तुलना में काफी कम है। बीजेपी ने यूपी के लिए अलग चुनावी रणनीति बनाई है। पार्टी का कहना है कि उसने बिहार की हार से कई सबक़ लिए हैं, जिन्हें यूपी में नहीं दोहराया जाएगा।