भोपाल : मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को नई दिल्ली में संसद भवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। चौहान ने नमामि गंगे की तर्ज पर प्रदेश में शुरू होने वाली 'नमामि देवि नर्मदे' यात्रा की जानकारी दी और मोदी को इस यात्रा के समापन के लिए आमंत्रित किया। चौहान ने प्रधानमंत्री मोदी को युगपुरुष बताया है।

राज्य के जनसंपर्क विभाग द्वारा जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को युग-पुरुष की उपाधि दी। उन्होंने नोटबंदी का अभूतपूर्व निर्णय लेने के लिए मोदी को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि यह राष्ट्र के हित में लिया गया असाधारण निर्णय है, और इससे भ्रष्टाचार, आतंकवाद और काला धन खत्म होगा।

मुख्यमंत्री चौहान ने प्रधानमंत्री से कहा कि 'नमामि देवि नर्मदे' यात्रा ओंकारेश्वर से 11 दिसंबर से प्रारंभ होकर मई 2017 में समाप्त होगी। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को यात्रा के समापन कार्यक्रम में आमंत्रित किया। यात्रा चार मई, 2017 को समाप्त होगी।

चौहान ने कहा है कि सप्ताह में एक दिन वह खुद इस यात्रा में भाग लेंगे। यात्रा का मुख्य उद्देश्य गिरते पर्यावरण स्तर को रोकना, लोगों को पर्यावरण के प्रति आगाह एवं जागरूक करना और नर्मदा के जल को शुद्ध रखना तथा नर्मदा के आसपास के क्षेत्र को पर्यावरण अनुकूल बनाना है।

चौहान ने प्रधानमंत्री मोदी को फसल बीमा योजना की केंद्र सरकार द्वारा 2000 करोड़ रुपये की केंद्रीय हिस्सेदारी जारी करने के लिए भी धन्यवाद दिया।

चौहान ने कहा, "नर्मदा में पानी कम हो रहा है और इस नदी में पानी किसी ग्लेशियर से नहीं आता है। नर्मदा में पानी मुख्य रूप से वर्षा से, पहाड़ों और पेड़ों से आता है। यात्रा के अंतर्गत नर्मदा के दोनों तटों पर फलदार पेड़ लगाने, तटों को स्वच्छ रखने और नर्मदा में गंदा पानी जाने से रोकने के लिए व्यापक जन-जागरण अभियान चलाया जाएगा। प्रधानमंत्री मोदी की सोच के अनुरूप स्वच्छ भारत अभियान चलाया जा रहा है।"

--आईएएनएस