दिल्ली में मौजपुर के बाद भजनपुरा में भी झड़प, फूंके गए वाहन, कई घायल

कान्सेप्ट फोटो (दिल्ली में हिंसा)  - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : पूर्वी दिल्ली में सीएए व एनआरसी के समर्थन और विरोध में हो रहे प्रदर्शनों के बीच सोमवार को उपद्रवी तत्वों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी और एक पेट्रोल पंप को भी फूंक दिया। इलाके में स्थिति तनावपूर्ण है। मौजपुर के बाद भजनपुरा में भी झड़पें हुई।

नागरिकता कानून को लेकर राजधानी में भड़की हिंसा में अब तक करीब 10 प्रदर्शकारी घायल हुए हैं। उनका उपचार जीटीबी हॉस्पिटल में चल रहा है। वहीं, निजी अस्पताल में भर्ती 6 पुलिसवालों में से 2 को छुट्टी दे दी गई है, जबकि 2 की हालत गंभीर और 2 का उपचार चल रहा है।

मौजपुर बाबरपुर मेट्रो स्टेशन, मौजपुर चौक, शमशान घाट चौक, जाफराबाद मेट्रो स्टेशन पर तनाव अभी भी बना हुआ है। प्रशासन की तरफ से सुरक्षा बढ़ा दी गई है, लेकिन फिलहाल स्थिति सामान्य नहीं है।

हिंसा के दौरान गोकुलपुरी एसीपी कार्यालय में तैनात सिपाही रतन लाल की मौत हो गई, जबकि शाहदरा के डीसीपी अमित शर्मा को गंभीर चोट आई है। उन्हें पटपड़गंज के मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बढ़ते नुकसान को देखते हुए प्रशासन की तरफ से धारा 144 लगाई गई है।

इसे भी पढ़ें :

मौजपुर: BJP नेता कपिल मिश्रा पर पथराव और हिंसा भड़काने का आरोप, कॉन्स्टेबल की मौत

शाहीन बाग : चौथे दिन भी बेनतीजा रही बातचीत, प्रदर्शनकारियों ने रखीं ये मांग

प्रदर्शनकारियों ने इलाकों में दुकानों में तोड़फोड़ भी की है और साथ ही लोगों के साथ मार-पीट की घटना भी सामने आई है।

मौजपुर-जाफराबाद के बीच दोपहर से ही पथराव जारी है। देखते ही देखते प्रदर्शनकारियों ने गाड़ियों को आग के हवाले भी कर दिया। साथ ही पास में मौजूद कूड़े के ढेर में भी आग लगा दी गई है, जिस वजह से इलाके में जहरीला धुआं फैल गया है।

Advertisement
Back to Top