ऐसी होगी ट्रंप के फैमली की सुरक्षा, परिंदा भी नहीं मार सकेगा पर

डोनाल्ड ट्रंप के साथ उनकी फैमिली भी भारत आएगी। - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आगरा दौरे को देखते हुए जबरदस्त सुरक्षा इंतजाम किया जा रहा है। हालांकि, राष्ट्रपति ट्रंप और उनके परिवार की सुरक्षा का जिम्मा अमेरिकी सीक्रेट सर्विस के पास होगी। लेकिन बाहरी सुरक्षा की जिम्मेदारी एनएसजी और यूपी पुलिस के हवाले है।

परिंदा भी नहीं मार पाएगा पर

सुरक्षा ऐसी की गई है कि आकाश से पाताल तक, परिंदा भी पर न मार सके। लेकिन सुरक्षा एजेंसियों को एक खास चिंता सता रही है। इस इलाके में बंदरों ने काफी उत्पात मचा रखा है, लिहाजा सुरक्षा व्यवस्था में कोई चूक न हो जाए इसके लिए खासतौर पर लंगूरो को भी तैनात किया जा रहा है, ताकि बंदरों के उत्पात को रोका जा सके। ऐसे पांच लंगूरों की तैनाती राष्ट्रपति ट्रंप के रूट पर की जा रही है।

सुरक्षा में तैनात होंगे एनएसजी कमांडो

गौरलतब है कि 24 फरवरी को प्रस्तावित अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा को लेकर सुरक्षा घेरा तैयार कर लिया गया है। हालांकि, सुरक्षा व्यवस्था को लेकर अफसरों को कुछ भी बताने का निर्देश नहीं है, लेकिन जो जानकारी सामने आई है, उसके अनुसार 10 कंपनी अर्धसैनिक बल, 10 कंपनी पीएसी के साथ एटीएस और एनएसजी के कमांडो को तैनात किया जाएगा। एक कंपनी में करीब 100 जवान होते हैं।

ताजमहल का दीदार करने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया 24 फरवरी को आगरा आएंगे। आगरा प्रशासन के मुताबिक, ताजमहल और एयरपोर्ट के बीच सुरक्षा व्यवस्था के लिए कई जिलों की पुलिस को लगाया गया है। पैरा मिल्रिटी फोर्स, पीएसी, एनएसजी कमांडो, एटीएस सड़क और छतों पर तैनात रहेंगे।

सैटेलाइट से रखी जाएगी निगरानी

वहीं, दूसरी तरफ अमेरिकी टीम सैटेलाइट से भी निगरानी करेगी। इस वजह से ट्रंप जहां से भी गुजरेंगे वहां के मोबाइल ऑटोमेटिक बन्द हो जाएंगे। पुलिस के वायरलेस और सीयूजी फोन्स की फ्रीक्वेंसी पहले से दे दिए जाने के कारण उनके संचार के साधन चलते रहेंगे। ट्रंप के करीब रहकर सुरक्षा व्यवस्था संभालने का काम अमेरिकी सुरक्षा एजेंसियां ही करेंगी।

यात्रा के दौरान ट्रंप की दो कारें काफिले में होंगी और वो किस कार में होंगे यह केवल कुछ ही लोगों को जानकारी होगी। यह कार सिर्फ अमर विलास होटल तक ही जा सकती है। कोर्ट की गाइडेंस के चलते इसके आगे 50 मीटर तक रास्ता बैट्री वाहन या गोल्फ कार से ही तय किया जाएगा।

होटल में भी होगी त्री स्तरीय सुरक्षा

दिल्ली के आईटीसी मौर्य होटल की जिस मंजिल पर ग्रैंड प्रेसिडेंशियल सुइट है वहां व्यापक सुरक्षा इंतजामों के चलते अधिकतर होटल कर्मचारियों की पहुंच भी सीमित कर दी गई है क्योंकि सूत्रों के मुताबिक राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके परिवार के सदस्य यहीं रुकेंगे।

ट्रंप होटल के ‘चाणक्य' सुइट में ठहरेंगे जहां इससे पहले पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति जार्ज बुश और बराक ओबामा ठहर चुके हैं।

सूत्रों ने कहा कि होटल में सुरक्षा इंतजाम बीते दो हफ्तों से एनएसजी कमांडो के पास है और दिल्ली पुलिस के लोग दैनिक आधार पर हर मंजिल की जांच कर रहे हैं। अमेरिकी दूतावास के अधिकारी भी तैयारियों पर नजर रख रहे हैं।

सूत्रों ने कहा कि ट्रंप और उनके साथ आए लोग जब तक यहां रहेंगे होटल में आम मेहमानों को ठहरने की इजाजत नहीं होगी। इस पांच सितारा होटल के सभी 438 कमरे बुक हैं।

इसे भी पढ़ें

सड़कों से हटाई जा रही धूल, दीवारों पर हो रही पेंटिंग, कुछ ऐसी हो रही ट्रंप के वेलकम की तैयारी

ट्रंप के अगले हफ्ते होने वाले दौरे के दौरान दिल्ली पुलिस, अमेरिकी खुफिया सेवा और अन्य एजेंसियों का बहुस्तरीय सुरक्षा घेरा होगा।

आईटीसी मौर्य में तीन स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था होगी। होटल की हर मंजिल पर सादी वर्दी में पुलिसकर्मी गश्त करते रहेंगे।

Advertisement
Back to Top