सहरसा : राजद सुप्रीमो लालू यादव के छोटो बेटे तेजस्वी यादव शनिवार को चुनाव प्रचार के लिए सहरसा पहुंचे। उनके पहुंचते ही भीड़ बेकाबू हो गई। इस दौरन जमकर हंगामा हुआ और कुर्सियां चली, जिसके कारण कई लोग घायल हो गए। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

माला नहीं पहाये जाने से नाराज था युवक

दरअसल, तेजस्वी यादव की सभा सिमरी बाख्तियारपुर उच्च विद्यालय प्रांगण में हो रही थी। इस चुनावी सभा में वो अपने प्रत्याशी जफर आलम के समर्थन में वोट मांगने पहुंचे थे। इसी बीच एक कार्यकर्ता तेजस्वी यादव को माला पहनाने मंच पर चढ़ा तो सुरक्षा गार्ड द्वारा उसे नीचे उतार दिया गया। गार्ड द्वारा मंच से नीचे उतारे जाने के बाद युवक कुर्सियां भांजने लगा जिसके बाद वहां मौजूद लोगों ने युवक पर कुर्सी बरसाना शुरू कर दिया। इसके बाद पुलिस ने भी जमकर लाठियां भांजी । इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए एक युवक को हिरासत में ले लिया।

इसे भी पढ़ें :

बदले-बदले से दिखाई दिए तेजस्वी यादव, नीतीश सरकार को घेरने का ये है प्लान

झारखंड में भाजपा को मात देने के लिए इस तरह तैयारी कर रहे तेजस्वी यादव

तबीयत बिगड़ने के बाद बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी दिल्ली एम्स में भर्ती

दांव पर है राजद की प्रतिष्ठा

राजद ने सिमरी बख्तियारपुर से जफर आलम को विधानसभा उपचुनाव में उम्मीदवार बनाया है। इसको लेकर ही तेजस्वी यादव सिमरी बख्तियारपुर हाईस्कूल में सभा को संबोधित करने के लिए पहुंचे हुए थे। फिलहाल स्थिति को कंट्रोल में करने में पुलिस लगी हुई है। कुर्सी चलाए जाने के कारण काफी देर तक सभा स्थल पर भगदड़ की स्थिति बनी रही।