नई दिल्ली : समाजवादी पार्टी सरकार में मंत्री रहे मुलायम सिंह यादव के छोटे भाई शिवपाल सिंह यादव भले ही अखिलेश यादव से मतभेद के कारण नई प्रगतिशील पार्टी बना ली है, लेकिन जल्द ही दल-बल समेत समाजवादी पार्टी में वापसी करने जा रहे हैं। वापसी के संकेत शिवपाल यादव ने और अखिलेश यादव ने दो दिन पहले ही दिए थे।

सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव अपने भतीजे अखिलेश से सारे मतभेद भुलाकर समाजवादी पार्टी में 30 सितंबर को वापसी करने जा रहे हैं।

माना जा रहा है कि यूपी की राजनीति में बड़ा रोल अदा करने वाला यादव परिवार एक बार फिर एकजुट होकर भारतीय जनता पार्टी और अन्य विरोधी दलों को टक्कर देने का मन बना रहा है।

इसे भी पढ़ें क्यों आंख बंद करके शिवपाल को पार्टी में शामिल करना चाहते हैं अखिलेश ?

अखिलेश ने एक अन्य सवाल पर कहा कि उनकी पार्टी के दरवाजे सबके लिये खुले हैं। जो आना चाहे, हम उसे आंख बंद करके पार्टी में शामिल कर लेंगे। मालूम हो कि विधानसभा में सपा और विपक्ष के नेता राम गोविंद चौधरी ने गत चार सितम्बर को शिवपाल की विधानसभा सदस्यता समाप्त करने की अर्जी दी थी।

जसवंत नगर सीट से सपा विधायक शिवपाल ने अखिलेश से तल्खी के बाद सपा से अलग होकर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का गठन किया था और पिछले लोकसभा चुनाव में सपा के खिलाफ कई जगह प्रत्याशी भी उतारे थे। हालांकि उन्हें कोई सफलता नहीं मिली थी।