जम्मू : केन्द्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह ने रविवार को कहा कि अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को समाप्त किए जाने के बाद हिरासत में लिए गए कश्मीरी नेताओं को 18 महीने से ज्यादा हिरासत बनाकर नहीं रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि नेताओं को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

वे लोग ‘‘हाउस गेस्ट'' हैं और उन्हें उनकी पसंद की हॉलीवुड सिनेमा की सीडी और भोजन दिया जा रहा है। सिंह ने एक रैली में कहा, ‘‘नेताओं को वीआईपी बंगलों में रखा गया है। हम उन्हें हॉलीवुड सिनेमा की सीडी दे रहे हैं। जिम की सुविधा भी दे रहे हैं। वे लोग नजरबंद नहीं किए गए हैं। वे लोग हाउस गेस्ट हैं।''

इसे भी पढ़ें :

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह फिर बोले- हमारा अगला एजेंडा POK

यूपी में जमानत जब्त होने का जश्न मना रही है कांग्रेस -केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह

प्धानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री सिंह ने इस बात पर जोर दिया कि जम्मू-कश्मीर के नेताओं को 18 महीने से ज्यादा वक्त के लिए हिरासत में नहीं रखा जाएगा। संविधान के अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को पांच अगस्त को निरस्त किए जाने और राज्य को दो केन्द्र शासित प्रदेशों... लद्दाख और जम्मू-कश्मीर में बांटे जाने के बाद कई नेताओं, अलगाववादियों, कार्यकर्ताओं और वकीलों को हिरासत में लिया गया है।

उस वक्त से हिरासत में लिए गए लोगों में पूर्व मुख्यमंत्री फारुक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती शामिल हैं। केन्द्रीय मंत्री सिंह ने यह भी कहा कि पाकिस्तानी कब्जे वाला कश्मीर (पीओके) भारत का है तथा केन्द्र सरकार जम्मू-कश्मीर की सीमा को बहाल करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा, ‘‘संसद इस संबंध में 1999 में प्रस्ताव पारित कर चुकी है।''