मुंबई : देश का सबसे बड़ा ऋणदाता बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने मंगलवार को कार की बिक्री को बढ़ावा देने के लिए आने वाले फेस्टिव सीजन के दौरान कार लोन पर प्रोसेसिंग फीस माफ करने का ऐलान किया। बैंक कार लोन पर सबसे कम ब्याज भी ले रहा है जिसकी शुरुआत 8.70 प्रतिशत से होगी और आगे इसके ब्याज में कोई वृद्धि भी नहीं होगी।

बैंक ने एक बयान में कहा, "एसबीआई ने फेस्टिव सीजन के दौरान कार लोन पर प्रोसेसिंग फीस माफ कर दी है। बैंक कार लोन लेने वाले ग्राहकों को ब्याज में कोई वृद्धि नहीं होने के साथ ब्याज दर की शुरुआत 8.70 प्रतिशत से कर रहा है। योनो बैंक की वेबसाइट जैसे डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से ऑनलाइन कार लोन के लिए आवेदन करने वाले ग्राहकों के लिए यह ब्याज दर पर 25 बीपीएस प्रदान कर रहा है। वेतनभोगी ग्राहक भी कार की ऑन-रोड कीमत पर 90 प्रतिशत से अधिक ऋण प्राप्त कर सकते हैं।"

ग्राहकों पर ईएमआई के बोझ को कम करते हुए उनके चेहरे पर और अधिक मुस्कान लाने के लिए एसबीआई ने सबसे कम ब्याज दर पर 20 लाख तक के व्यक्तिगत ऋण की भी घोषणा की, जिसके ब्याज दर की शुरुआत 10.75 प्रतिशत से होगी और इसकी भुगतान की अवधि भी 6 साल होगी।

इस बयान में यह भी कहा गया, वेतन-खाता ग्राहक भी चार क्लिक में योनो (एसबीआई का स्वीकृत डिजिटल बैंकिंग ऐप) के माध्यम से 5 लाख तक की पूर्व-स्वीकृत ऋण की प्राप्ति कर सकते हैं।

बैंक क्रमश: 8.25 ब्याज दर पर भारत और विदेश में पढ़ाई के लिए 50 लाख और 1.50 करोड़ तक एजुकेशन लोन भी दे रही है। ग्राहकों को 15 साल के लिए पुन: भुगतान करने की सबसे लंबी अवधि दी जाएगी जिससे उन पर ईएमआई का बोझ प्रभावी रूप से कम होगा।

इसे भी पढ़ें :

SBI के खातादारों के लिए बुरी खबर, 1 अगस्त से होगी डिपॉजिट्स पर ब्याज दरों में कटौती

हाल ही में, बैंक ने एमसीएलआर(मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स बेस्ड लेंडिंग रेट) को 15 बीपीएस घटा दिया जिसके चलते अप्रैल 2019 से होम लोन पर ब्याज दर 35 बीपीएस कम हो गया। फिलहाल बैंक 8.05 प्रतिशत ब्याज दर के साथ सबसे सस्सा होम लोन प्रदान कर रहा है, क्योंकि रेपो रेट होम लोन के साथ लिंक्ड है और यह दर सभी मौजूदा और नए लोन पर 1 सितंबर से लागू होगी।