नई दिल्ली : कर्नाटक में भाजपा के एक विधायक ने बाढ़ पीड़ितों को मकान मुहैया नहीं किये जाने की स्थति में राज्य में अपनी ही पार्टी की सरकार गिराने की धमकी दे कर खलबली मचा दी है। उनके इस बयान का एक वीडियो वायरल हो गया है।

विधायक बालचंद्र जरकीहोली बेलगावी जिले में पड़ने वाले अपने निर्वाचन क्षेत्र अराभावी के बाढ़ प्रभावित इलाकों के दौरे पर लोगों से यह कहते सुने गये, ‘‘ आपका मकान मुहैया करना हमारी जिम्मेदारी है।'' उन्होंने कहा, ‘‘मैं यह प्रामाणिक तौर पर कह रहा हूं...यदि हम मकान बनाने में नाकाम रहें तो हम लोग सरकार गिरा देंगे।'' बेलगावी जिला बाढ़ से बुरी तरह से प्रभावित हुआ है।

दिलचस्प है कि जरकीहोली उन 16 विधायकों में शामिल थे, जिन्होंने 2010 में कर्नाटक में बी एस येदियुरप्पा नीत पहली भाजपा सरकार से समर्थन वापस ले लिया था। इसके बाद, तत्कालीन राज्यपाल हंसराज भारद्वाज ने येदियुरप्पा को बहुमत साबित करने कहा था। हालांकि, विधानसभा में शक्ति परीक्षण से कुछ ही घंटों पहले तत्कालीन स्पीकर के जी बोपैया ने जरकीहोली और 15 अन्य बागी विधायकों को सदन की सदस्यता के लिए अयोग्य घोषित कर दिया।

इसे भी पढ़ें : फ्लोर टेस्ट से पहले कर्नाटक में भाजपा को झटका, अयोग्य करार दिए गए बागी विधायक

इस कदम से भाजपा की सरकार बच गई थी। इसके बाद, जरकीहोली ने उच्चतम न्यायालय का रूख किया था और शीर्ष न्यायालय ने बोपैया के आदेश को निरस्त कर दिया। जरकीहोली बेलगावी के एक ऐसे परिवार से आते हैं जिसका राज्य की राजनीति में काफी दखल है। उनके परिवार से कुछ अन्य लोग कांग्रेस और भाजपा विधायक हैं।