लंदन। ब्रिटेन के डर्बी में रहने वाली 23 साल की भाषा मुखर्जी ने मिस इंग्लैंड का खिताब जीत लिया है। उन्होंने यह खिताब लंदन में जीता है। क्राउन पहनने के कुछ ही घंटे बाद उन्होंने बोस्टन के एक अस्पताल में बतौर जूनियर डॉक्टर करिअर की शुरुआत की। अब भाषा दिसम्बर में आयोजित होने वाली मिस वर्ल्ड स्पर्धा में हिस्सा लेंगी।

कॉम्पिटिशन के लास्ट फेज से पहले एक इंटरव्यू में भाषा ने कहा था, ‘कई लोग सोचते हैं कि सौंदर्य प्रतियोगिताएं जीतने वाली लड़कियां बुद्धू होती हैं। लेकिन हम सब किसी ना किसी मकसद से ही यहां हैं

भाषा मुखर्जी
भाषा मुखर्जी
भाषा मुखर्जी
भाषा मुखर्जी

5 भाषाओं की हैं जानकार

मेडिकल की पढ़ाई के बीच मैंने इस तरह की प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के बारे में सोचा। इसके लिए मुझे खुद को बहुत समझाना भी पड़ा था।’ मुखर्जी अंग्रेजी और हिंदी के साथ बांग्ला, जर्मन और फ्रेंच भाषा बोल सकती हैं।

भाषा मुखर्जी
भाषा मुखर्जी

146 है भाषा मुखर्जी का IQ स्कोर

भाषा का आईक्यू भी 146 है जो अच्छी बुद्धिमत्ता को प्रदर्शित करता है। भारत में जन्मीं भाषा मुखर्जी नौ साल की उम्र में माता-पिता के साथ इंग्लैंड पहुंच गईं थीं। इस प्रतियोगिता में भारतीय मूल की ब्रिटिश डॉक्टर भाषा मुखर्जी ने अपने जवाब और जानकारियों से प्रतियोगियों को पछाड़ दिया। ऐसा इसलिए हो सका क्योंकि उनका आईक्यू स्तर 146 है।

मशहूर वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टाइन और स्टीफन हॉकिंग का आईक्यू स्तर मिस इंग्लैंड भाषा मुखर्जी से मात्र 14 अंक ज्यादा था। इन दोनों वैज्ञानिकों का आईक्यू स्तर 160 था। 145-160 के बीच आईक्यू स्तर को भगवान का अनमोल तोहफा माना जाता है। दुनिया में मात्र दो फीसद लोगों का आईक्यू स्तर इतना ज्यादा होता है।