लखनऊ। उत्तर प्रदेश के रायबरेली में एक कार और ट्रक के बीच हादसा हो गया। इस हादसे में उन्नाव रेप विक्टिम बुरी तरह से घायल हो गई है। जबकि पीड़ित की मां और चाची दोनों की हादसे में मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि रविवार को पीड़िता अपनी मां और चाची के साथ जेल में बंद अपने चाचा से मिलने जा रहे थे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मुताबिक रास्ते में एक ट्रक ने उनकी कार को टक्कर मार दी। इसमें तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां पीड़िता की मां और उसकी चाची की मौत हो गई। जबकि विक्टिम और उसके वकील घायल बताए जा रहे हैँ।

इस मामले को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 18 जुलाई को विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के साथी आरोपी शशि सिंह की जमानत याचिका खारिज की थी। महिला के द्वारा दर्ज कराए गए बयान में कुलदीप सेंगर का भी नाम था। जिसे लेकर शशि सिंह ने अनुरोध किया था कि कथित बलात्कार के समय, विधायक घटना स्थल से लगभग 50 किमी दूर थे और चूंकि उसकी उपस्थिति भी साबित नहीं हुई थी और इसलिए उसे जमानत दी जानी चाहिए।

शशि सिंह के इस दलील का विरोध करते हुए, केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के वकील ने कहा कि इस स्तर पर दर्ज किए गए बयान उसकी याचिका को खारिज करने के लिए पर्याप्त था। उन्नाव के माखी थाना क्षेत्र की एक महिला ने यह भी आरोप लगाया था कि सेंगर ने 2017 में अपने आवास पर उसकी किशोरी बेटी के साथ बलात्कार किया था।
इसे भी पढ़ें

उन्नाव गैंगरेप: पेशी से पहले रो पड़े आरोपी BJP विधायक सेंगर, 7 दिनों की CBI रिमांड भेजे गए

क्या है मामला

दरअसल यह मामला तब सामने आया था जब विक्टिम ने सीएम आवास के बाहर आत्मदाह की कोशिश की थी। ये मामला भी नेशनल मीडिया में काफी दिनों तक छाया था। यूपी विधानसभा में बांगरमऊ का प्रतिनिधित्व करने वाले चार बार के विधायक सेंगर को पिछले साल 13 अप्रैल को देश भर में व्यापक विरोध के बाद गिरफ्तार किया गया था।