लखनऊ। देशभर में सुर्खियां बटोर रहे साक्षी मिश्रा- अजितेश जल्द ही सब रजिस्ट्रार ऑफिस में अपनी शादी रजिस्टर्ड कराने आ सकते हैं। खबरें हैं कि इसके लिए उन्होंने रजिस्ट्रेशन के लिए ऑनलाइन आवेदन दिया है, लेकिन उनकी सुरक्षा को लेकर अभी भी सवाल बना हुआ है। दरअसल यह पूरा मामला सामने आने के बाद ही मोहल्ले के लोगों ने भी दोनों का विरोध किया था। उनका परिवार अभी दहशत में है।

वहीं दूसरी ओर शनिवार को अजितेश की फैमिली के कुछ लोग बरेली लौट चुके हैं। बताया जा रहा है कि अजितेश के दादा - दादी और बहन बरेली स्थित अपने घर पहुंचे। इस दौरान वे लोगों से अपनी नजरें बचाते हुए दिखाई दिए।

उधर अजितेश उर्फ अभिषेक सिंह भी अपनी पत्नी साक्षी के साथ घर लौटना चाह रहा है। दोनों माहौल सामान्य होने का इंतजार कर रहे हैं। इस वजह से वो अभी भी अपने रिश्तेदारों के घर में रूके हुए हैं। वहीं से दोनों बरेली के हालात को भांप रहे हैं।

अजितेश साक्षी के सामने सुरक्षा का है चैलेंज

पिछले हफ्ते सोमवार को हाईकोर्ट ने साक्षी और अजितेश को दो महीने के अंदर अपनी शादी रजिस्टर्ड कराने का आदेश दिया था।सब रजिस्ट्रार ऑफिस में उपस्थित होकर उन्हें अपनी शादी पर मुहर लगवानी होगी।' अगर वो दो महीने के अंदर शादी रजिस्टर्ड नहीं करा पाए तो उसे रद्द कर दिया जाएगा। इस वजह से उन्होंने ऑनलाइन ही अप्लाई किया हुआ है।

इसे भी पढ़ें बरेली पहुंचा अजितेश का परिवार, जानिए कहां हैं BJP विधायक की बेटी साक्षी मिश्रा ?

हाल ही में अपनी याचिका पर सुनवाई के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट में पहुंचे साक्षी और अजितेश पर हमला हुआ था। कुछ लोगों ने वकीलों के वेष में आकर अजितेश की पिटाई कर दी थी। कोर्ट के आदेश पर एक दरोगा और दो सिपाही दिल्ली में अजितेश-साक्षी की सुरक्षा में तैनात हैं। फिर भी चर्चा है कि कॉलोनी में वापस आने पर साक्षी और अजितेश को उनके विरोध का भी सामना करना पड़ सकता है। खबर यह भी कि अजितेश के पिता विधायक राजेश मिश्रा से सुलह की कोशिश में जुटे हुए हैं। लेकिन क्या राजेश मिश्रा अब सुलह का रास्ता अख्तियार करेंगे। इस पर अभी भी संशय बना हुआ है।