नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक की बेटी साक्षी मिश्रा और अजितेश नई जानकारी सामने आई है। एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में साक्षी ने कहा है कि उनके पिता उनकी शादी आईएएस लड़के से कराना चाहते थे।

साक्षी ने यह भी बताया कि उनके पिता और मां 2 जुलाई को इसी सिलसिले में लखनऊ गए थे, लेकिन मुझे यह कहकर ले गए थे कि वो मम्मी को लखनऊ में डॉक्टर के पास इलाज के लिए ले जा रहे हैं। जब वो वहां पहुंची इसके बाद उसने ठान लिया कि अब तो घर छोड़ना ही पड़ेगा। इसके बाद उसने अजितेश से इस बाबत बात की और 3 जुलाई की शाम को उसने अपना घर छोड़ दिया। घर छोड़ने के बाद दोनों प्रयागराज पहुंचे और वहां के रामजनकी मंदिर में शादी कर ली।

साक्षी मिश्रा
साक्षी मिश्रा

साक्षी ने स्वीकारा की पंडित ने नहीं कराई शादी

वहीं प्रयागराज के राम जानकी मंदिर के महंथ ने कहा है कि हमारे यहां कोई शादी होती ही नहीं है, पता नहीं ये लोग कैसे और कहा से कह रहे हैं। इस पर साक्षी मिश्रा ने कहा कि हां ये पंडित उस वक्त मंदिर में नहीं थे, लेकिन हमने तो इनके मंदिर में ही शादी की है। इस पर अतिजेश ने कहा कि पंडित जी किसी दबाव में मत आइए।

अजीतेश की हो चुकी है सगाई

खबर यह भी है कि साक्षी के साथ शादी से पहले उसके पति अजीतेश की भोपाल में सगाई हो चुकी थी। हालाकि यह सगाई कुछ कारणों के वजह से बाद में टूट गई। बता दें कि अजीतेश साक्षी के भाई विक्की का दोस्त था। उसका साक्षी के घर आना जाना था। साक्षी के पिता ने मीडिया से बातचीत में यह भी बताया कि मुझे जाति को लेकर कोई विरोध नहीं है। आज इस मामले को तूल देने के लिए चाहे जो बातें कही जा रही हो लेकिन अजितेश हमारे घर खाना भी खा चुका है। उन्होंने यह भी कहा है कि अगर उन्हें इस मामले को लेकर ज्यादा परेशान किया गया तो वे अपनी जान दे देंगे।

क्या है पूरा मामला

दरअसल यह पूरा मामला 4 जुलाई को शुरू हुआ। 3जुलाई को घर से निकलने के बाद साक्षी ने अजितेश से प्रयागराज के एक मंदिर में शादी की। इसके बादअपने पति के जान का खतरा बता कर साक्षी मिश्रा ने दो वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किया। इसमें उन्होंने अपने पिता और भाई के लोगों से जान का खतरा बताया. इसके बाद उन्होंने इलाहाबाद हाईकोर्ट में सुरक्षा को लेकर याचिका दायर किया।