नई दिल्ली : मध्य प्रदेश सरकार गाय के नाम पर होने वाली मॉब लिंचिंग को रोकने के लिए कड़ा कानून बनाने जा रही है। इस कानून के तहत खुद को गौरक्षक बताकर हिंसा करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कानून का मसौदा तैयार हो गया है। इसको विधि विभाग ने मंजूरी दे दी है।

सरकार ये विधेयक विधानसभा के मानसून सत्र में पेश कर पारित कराना चाहती है। ताकि इस कानून के तहत उन लोगों पर कार्रवाई की जा सके जो अपने संदेह के आधार पर लोगों के साथ खुलेआम मारपीट करते हैं।

इसे भी पढ़ें :

मध्य प्रदेश में सरकार बचाने के लिए सीएम कमलनाथ ने निकाला फार्मूला, जानिए क्या है !

मध्य प्रदेश में अभी जो कानून लागू है, उसके तहत गोवंश की हत्या, गोमांस रखने और उसके परिवहन पर पूरी तरह रोक है। इसमें गोवंश के नाम पर हिंसा या मॉब लिंचिंग का जिक्र नहीं है। इस कानून में संशोधन के बाद अब कोई व्यक्ति गोवंश का वध, गोमांस और गोवंश का परिवहन, मांस रखना या सहयोग करना या इसके अंतर्गत कोई हिंसा या क्षति नहीं करने पर पांच साल तक की सजा और जुर्माने का प्रावधान होगा।