हैदराबाद: आंध्र प्रदेश के नेल्लोर जिले में स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर में तब तहलका मच गया। जब बंगाल की खाड़ी में स्पेस सेंटर से काफी करीब श्रीलंका का बोट नजर आया। एक तरफ जहां श्रीहरिकोटा से 'आरआईसैट-2बी' सैटेलाइट की लॉन्चिंग की खुशियां मनाई जा रही थी। वहीं इस खबर ने सनसनी फैला दी।

इसरो ने आज ही सुबह 5 बजे के करीब 'आरआईसैट-2बी' सैटेलाइन को पीएसएलवी-सी46 द्वारा अंतरिक्ष में रवाना किया। जिसके बाद घटी इस घटना पर सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद की गई।

अति संवेदनशील स्पेस सेंटर के पास विदेशी बोट का नजर आना बेहद गंभीर मामला बताया जाता है। वो भी तब जब श्रीलंका में आतंकवादी घटनाएं लगातार हो रही हैं। हाल ही में श्रीलंका में बम विस्फोट कर सैंकड़ों लोगों को मौत की नींद सुला दिया गया था। जिसके बाद से ही भारत-श्रीलंका के बीच जल सीमा पर सुरक्षा में सतर्कता बरती जा रही है।

यह भी पढ़ें:

श्रीलंका बम  ब्लास्ट :  ईस्टर बम विस्फोटों में शामिल आतंकवादियों की संपत्ति होगी सील

घटना के बारे में बताया जाता है कि बोट खाली थी। जो पानी में उतराते हुए आंध्र प्रदेश के नेल्लोर के गांव पाथुरु आ पहुंची। मोटर बोट में कुछ अधजले सिगरेट और बीड़ी के बंडल मिले हैं। साथ ही एक वाटर केन मिला जिसमें श्रीलंका का स्टिकर लगा हुआ है।

श्रीलंका में हालिया आतंकवादी घटनाओं के मद्देनजर इस बात का अंदेशा है कि अपराधी भारत में घुसपैठ करने की कोशिश कर सकते हैं। इसी को लेकर पुलिस ने सतर्कता बरती है। साथ ही बोट को लेकर पूरी जांच पड़ताल की जा रही है। आस पास के इलाकों को खंगाला जा रहा है कि कहीं कोई संदिग्ध श्रीलंकाई तो इलाके में नहीं घुस आया है।