नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल मामले में सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर की गई 'चौकीदार चोर है' वाली अपनी टिप्पणी को लेकर सोमवार को सर्वोच्च न्यायालय से माफी मांग ली। उन्होंने माना कि 'अदालत ने कभी ये शब्द नहीं कहे।'राहुल गांधी ने उनके खिलाफ भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी द्वारा दायर याचिका के जवाब में यह कहा।

राहुल ने कहा कि राफेल मामले में प्रधानमंत्री के खिलाफ उनकी राजनीतिक बयानबाजी एक चुनाव प्रचार अभियान की गहमा-गहमी के दौरान की गई थी। हालांकि, उन्होंने कहा कि उनका और उनकी पार्टी का रुख अब यही है कि 'चौकीदार चोर है'।

इसे भी पढ़ें :

‘चौकीदार चोर है’ वाले बयान पर फंसे राहुल गांधी, सुप्रीम कोर्ट ने मांगा जवाब

आपको बता दें कि राहुल गांधी पिछले कुछ समय से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करने के लिए चौकीदार को चोर बताते हुए चुनाव प्रचार कर रहे हैं। राहुल गांधी की इस टिप्पणी के विरोध में भाजपा नेता मीनाक्षी लेखी ने राहुल गांधी से उनकी टिप्पणी के लिए माफी मांगने की मांग करते हुए अदालत में एक याचिका दाखिल की थी।