BHU कैम्पस में छात्र की गोली मारकर हत्या, जबरदस्त तनाव के बीच छावनी बना इलाका 

घटना स्थल की तस्वीर - Sakshi Samachar

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में वाराणसी के बीएचयू परिसर स्थित बिड़ला ए चौराहा के पास मंगलवार देर शाम बाइक सवार चार बदमाशों ने एमसीए के निष्कासित छात्र गौरव सिंह (23) पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर उसकी हत्या कर दी। इस घटना के बाद से परिसर में तनाव है। पुलिस ने बुधवार को बताया कि इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है।

घटना के तुरंत बाद पुलिस ने बीएचयू के छात्रावासों और आसपास के क्षेत्र में छापामारी कर रूपेश, अभिषेक राय और दो अन्य को हिरासत में ले लिया।


वहीं पुलिस इस घटना को निजी दुश्मनी बता रही है। सीओ कैंट अनिल कुमार सिंह ने बताया कि यह निजी रंजिश का केस है और इस संबंध में चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। आपको बता दें कि मृतक छात्र गौरव सिंह के पिता राकेश सिंह भी बीएचयू में ही बड़े बाबू के पद पर तैनात हैं। परिवार रोहनिया थानाक्षेत्र के अखरी का रहने वाला है।

इसे भी पढ़ें :

उत्तर प्रदेश में भाजपा नेता की दबंगई, जिलाधिकारी पर उठाया हाथ

BHU में देर रात जमकर हुआ बवाल, छात्राओं से हुई अभद्रता, मारपीट और लाठीचार्ज

वाराणसी छावनी के क्षेत्राधिकारी (सीओ) अनिल कुमार सिंह ने आईएएनएस से कहा, मंगलवार शाम लाल बहादुर शास्त्री छात्रावास के सामने बाइक सवार चार बदमाशों ने एमसीए के एक निष्कासित छात्र गौरव सिंह पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाकर उसकी हत्या कर दी।

पेट में गोलियां लगने से गंभीर रूप से घायल गौरव सिंह को बीएचयू स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया जहां बुधवार को उसकी मौत हो गई। अनिल सिंह ने बताया, "प्राथमिक नजर में घटना के पीछे छात्र गुटों की आपसी रंजिश और वर्चस्व की लड़ाई प्रतीत हो रही है।"

छात्रों के अनुसार, गौरव मंगलवार शाम लगभग सात बजे बिड़ला चौराहा पर अपने दोस्तों से बात कर रहा था। इसी दौरान दो बाइकों पर सवार चार बदमाश आए और गौरव को निशाना बना कर दो पिस्तौलों से 8-10 गोलियां चलाईं।

गौरतलब है कि एमएससी के छात्र गौरव को दिसंबर 2017 में बीएचयू में हुए बवाल का आरोपी होने के कारण 2018 में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था और इसी के बाद से वह कॉलेज से निष्कासित चल रहा था। इससे छात्रों में भगदड़ मच गई। छात्रों ने ट्रॉमा सेंटर में हंगामा कर दिया। गौरव द्वारा बताए गए चारों आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

Advertisement
Back to Top