पटना : जनता दल (युनाइटेड) के उपाध्यक्ष और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने मंगलवार को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू पर पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर आधारहीन बयान देने का आरोप लगाते हुए इशारों-इशारों में चुनाव पर ध्यान देने की नसीहत दी।

किशोर ने ट्वीट कर कहा, "चुनाव में हार सामने देखकर चंद्रबाबू नायडू सरीखे अनुभवी नेता भी परेशान हैं। यही कारण है कि मैं उनके निराधार बयान से हैरान नहीं हूं।"

चंद्रबाबू नायडू ने सोमवार को सार्वजनिक रूप से एक कार्यक्रम में कहा था, "तेलंगाना के मुख्यमंत्री क़े चंद्रशेखर राव आपराधिक राजनीति कर रहे हैं। वह कांग्रेस और टीडीपी के विधायकों पर कब्जा कर रहे हैं। 'बिहारी डकैत' प्रशांत किशोर ने आंध्र प्रदेश में लाखों वोट हटवाए हैं।"

इसे भी पढ़ें :

AP Elections 2019: चंद्रबाबू नायडू ने प्रशांत किशोर को बताया ‘बिहारी डकैत’, जानें क्यों बौखलाए मुख्यमंत्री

चंद्रबाबू नायडू के शासन में भ्रष्टाचार ही भ्रष्टाचार : वाईएस जगन

आंध्र प्रदेश विभाजन के बाद राज्य की मतदाता सूची से बड़ी संख्या में नाम हटाए गए हैं। इसे लेकर राजनीतिक दल नाम हटाए जाने को लेकर एक-दूसरे पर साजिश का आरोप लगा रहे हैं। दिल्ली में भी आम आदमी पार्टी ने भाजपा पर ऐसा ही आरोप लगाया है।