नई दिल्ली: पूर्व क्रिकेटर और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने अब खुल्ल्म खुल्ला पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय वायुसेना की कार्रवाई पर उंगली उठाई है। सिद्धू ने ट्वीट किया कि वहां 300 आतंकी मारे गए हैं या नहीं? अगर नहीं तो इसका क्या मकसद था? क्या सिर्फ पेड़ उखाड़ने ही गए थे।

नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने ही देश की सेना पर तंज कसते हुए लिखा कि वहां आतंकवादी मारने गए थे या पेड़ उखाड़ने? सिद्धू के मुताबिक ये सब चुनावी नौटंकी का हिस्सा है।

हालांकि सिद्धू ने बाद में सेना को पवित्र बताते हुए सरकार पर हमलावर टिप्पणी की। सिद्धू ने इस ट्वीट के अलावा वीडियो भी शेयर किया है। जिसमें मीडिया रिपोर्ट के हवाले से बालाकोट के कुछ स्थानीय नागरिकों का बयान है। बालाकोट के लोग इस बात को नकार रहे हैं कि भारतीय बमबारी से कोई भी पाकिस्तानी घायल हुआ है।

सिद्धू की सोशल मीडिया पर हो रही आलोचना
सिद्धू की सोशल मीडिया पर हो रही आलोचना

नवजोत सिंह सिद्धू की इन्हीं करतूतों की वजह से उन्हें कपिल शर्मा के शो से हटा दिया गया था। यहां तक कि ताजा बयान पर नवजोत को सोशल मीडिया पर खूब गालियां पड़ रही है।

बता दें कि बीजेपी लगातार दावा कर रही है कि एयरफोर्स के अटैक में पाकिस्तान की तरफ 250 से अधिक आतंकवादी मारे गए हैं। यहां तक कि पार्टी इस सफलता को चुनावी सभाओं में भी खूब भुना रही है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, कांग्रेस नेता मनीष तिवारी, कपिल सिब्बल ने भी सवाल खड़ा किया है कि सेना के आधिकारिक बयान के बगैर बीजेपी कैसे संख्या का दावा कर रही है। सुबूत मांगने वाले नेताओं में ममता बनर्जी और दिग्विजय सिंह भी शामिल हैं।