नई दिल्लीः पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने चौतरफा दबाव के बाद आखिरकार आज बड़ा ऐलान किया है। इमरान खान ने एक संदेश जारी कहा कि वह भारत और पाकिस्तान के बीच शांति चाहते हैं। इसलिए वह कल भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को रिहा कर देंगे।

आपको बता दें कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान आज संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित कर रहे हैं। इस दौरान उन्होंने कहा कि हम भारत के साथ आगे कोई लड़ाई नहीं चाहते हैं, और इसके लिए मैंने कल पीएम नरेंद्र मोदी से भी बात करने की कोशिश भी की थी। उन्होंने कहा लेकिन हम जो ये कोशिश कर रहे हैं, उसे कमजोरी न समझा जाए।

गौरतलब है कि इससे पहले भारतीय विदेश मंत्रालय के सूत्रों की मानें तो इस मसले पर किसी तीसरे पक्ष की जरूरत नहीं है। अमेरिका शुरूआत से ही हमारे साथ रहा है और चीन की नीति अस्पष्ट रही है। सूत्रों के अनुसार, यूएन के सभी मेंबर और P4 सदस्य भारत के साथ हैं।

सूत्रों ने कहा कि भारत ने पाकिस्तानी सीमा में घुसकर जो कार्रवाई की है उसपर कोई आवाज नहीं उठी है। ये कूटनीतिक जीत है। भारत की मांग है कि उनके पायलट को तुरंत रिहा किया जाए और उन्हें कोई नुकसान ना पहुंचे। भारत का साफ मानना है कि अगर पायलट को कुछ हुआ तो भारत कार्रवाई करेगा।

इससे पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान 'शांति का न्योता देने के लिए' अपने भारतीय समकक्ष नरेंद्र मोदी से टेलीफोन पर बातचीत करने के लिए तैयार हैं।

इसे भी पढ़ेंः

IAF Wing Commander अभिनंदन के पिता ने कहा, बेटे की बहादुरी पर गर्व, सुरक्षित लौटने की जताई उम्मीद

कुरैशी ने यह भी कहा कि पाकिस्तान बुधवार को पकड़े गए भारतीय वायु सेना के पायलट को वापस लौटाने पर विचार कर सकता है, अगर इससे दोनों देशों के बीच तनाव में कमी आएगी।

मंत्री ने जीओ न्यूज से कहा, "प्रधानमंत्री इमरान खान टेलीफोन पर बातचीत करने के लिए तैयार हैं और शांति का न्योता देने के लिए भी तैयार है। क्या मोदी तैयार हैं?"