जम्मू कश्मीर: पुलवामा में दुर्दांत आतंकवादी गाजी समेत तीन आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने ढेर कर दिया है। फिलहाल सेना का आतंकवादियों के साथ इनकाउंटर खत्म हो चुका है।

पुलवामा हमले में जहां भारतीय सेना को बड़ी कामयाबी मिली है। वहीं सेना के बड़े अधिकारियों के घायल होने की बात कही जा रही है। बताया जाता है कि दक्षिण कश्मीर के डीआईजी के पैर में गोली लगी है। जबकि इस ऑपरेशन के दौरान ब्रिगेडियर हरबीर सिंह और लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक के अधिकारी बुरी तरह घायल हुए हैं। बता दें कि इस मुठभेड़ में मेजर समेत पांच जवान शहीद हो चुके हैं।

यह भी पढ़ें:

शादी के जोड़े में पत्नी सावित्री ने शहीद को दी अंतिम विदाई, जार-जार रोया पूरा गांव

पुलवामा के पिंगलिना इलाके में बीते अठारह से अधिक घंटों से मुठभेड़ जारी है। हालांकि सुरक्षा बलों को पुलवामा हमले का दोषी कामरान गाजी समेत अन्य आतंकवादी को ढेर करने में कामयाबी मिली है।

सुरक्षाबलों को जानकारी मिली थी कि पुलवामा अटैक का मास्टरमाइंड गाजी पिंगलिना में छिपा हुआ है। जिसके बाद शुरू हुए ऑपरेशन में सेना के वरीय अधिकारी हताहत हुए और कई जवानों को जान गंवानी पड़ी।

खुफिया इनपुट के आधार पर सुरक्षा बलों ने कार्रवाई शुरू की। जिसके तहत पुलवामा अटैक के मुख्य आरोपी को मार गिराया गया।

बता दें कि पाकिस्तान में बैठे जैश ए मोहम्मद के सरगना मौलाना मसूद अजहर के इशारे पर कामरान गाजी ने घटना का सूत्रपात किया था। यहां तक कि गाजी ने ही पुलवामा में हमले की पूरी साजिश रची थी। कामरान गाजी को मौलाना मसूद अजहर का काफी करीबी माना जाता है।