वाराणसी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 19 फरवरी को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी दौरे पर पहुंच रहे हैं। इस दौरान वह बहुत सारी परियोजनाओं की सौगात देने वाले हैं। कार्यक्रम को लेकर कई आला अधिकारियों ने सभा स्थलों का जायजा लिया। इस दौरान जिलाधिकारी सुरेंद्र कुमार सिंह भी मौजूद रहे। बम निरोधक दस्ते ने मैदान के चप्पे-चप्पे की छानबीन की। सभा को लेकर चल रही तैयारी अंतिम दौर में हैं। विधायक सुरेंद्र सिंह और जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा ने भी स्थलों का दौरा किया।

2,200 करोड़ की देंगे सौगात

जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा ने बताया, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 19 फरवरी को वाराणसी को 2,200 करोड़ रुपये की परियोजनाओं की सौगात देंगे। इस दौरान वह संत रविदास जयंती समारोह में शामिल होंगे और जनसभा को भी संबोधित करेंगे। एसपीजी ने सभी कार्यक्रम स्थलों पर नियंत्रण बना लिया है।"

इसे भी पढ़ें: नरेंद्र मोदी ने किया वाराणसी का दौरा, 2500 करोड़ की देंगे सौगात

SPG ने स्थानी प्रशासन के साथ की मीटिंग, किया अलर्ट

विशेष सुरक्षा बल (एसपीजी) ने स्थानीय अधिकारियों संग बैठक की। इसमें सुरक्षा व्यवस्था पर चर्चा करते हुए पुख्ता इंतजाम करने का निर्देश दिया।दौरे के मद्देनजर प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने प्रशासन को अलर्ट किया है। पंडाल क्षेत्र में आम लोगों का आवागमन बंद कर दिया गया है। राजमार्ग से मंच तक प्रधानमंत्री के वाहन के आने-जाने के लिए खड़ंजा बिछाया जा रहा है। मोदी के दौरे के मद्देनजर पीएमओ के अधिकारियों के लिए मिनी पीएमओ बनाया जा रहा है। बगल में तीन हेलीपैड का निर्माण कार्य चल रहा है।

कई परियोजनाओं का करेंगे लोकार्पण

करीब साढ़े तीन घंटे के प्रवास में मोदी कई करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण और कुछ का शिलान्यास करेंगे। इन परियोजनाओं में बीएचयू में सेंट्रल डिस्कवरी सेंटर, स्मार्ट सिटी इंटीग्रेटेड कमांड सेंटर, मान महल म्यूजियम प्रमुख हैं। इसके बाद शहर से दूर औढ़े गांव में जनसभा को संबोधित कर प्रधानमंत्री दिल्ली रवाना हो जाएंगे।