महाराजगंज : पुलवामा में CRPF के काफिले पर हुए आत्मघाती हमले में शहीद जवानों के परिजनों के साथ सारा देश खड़ा नजर आ रहा है और सभी राजनेता भी खड़े दिख रहे हैं। शहीद पंकज त्रिपाठी के परिजनों से मिलने के लिए यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को महाजराजगंज के उनके गांव हरपुर पहुंचे उन्होंने शहीद के परिवार के संवेदना प्रकट करते हुए उन्हें हर तरह की मदद का आश्वासन दिया।

पंकज त्रिपाठी के पैतृक निवास पर पहुंचकर सीएम ने उन्हें पुष्पांजलि अर्पित कर नमन किया। इसके बाद शहीद के पिता से बातचीत की। इससे पहले सीएम ने पुलवामा हमले में शहीद यूपी के अलग-अलग जिलों के सभी 12 जवानों के परिजनों को 25-25 लाख रुपये की अनुग्रह राशि और परिवार के एक व्यक्ति को नौकरी देने की घोषणा की थी। इसके अलावा योगी ने ऐलान किया था कि सभी शहीदों के गांवों के संपर्क मार्गों का नाम जवानों के नाम पर किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें :

अपनी शादी में झंड़ा लेकर पुलवामा में शहीद जवानों को इस जोड़े ने दी श्रद्धांजलि

आतंकियों की इस कायराना हरकत के खिलाफ लोग साहसिक एकजुटता का प्रदर्शन कर रहे हैं।शहीद के परिजनों को भरपूर मदद मिलने की खबरें आ रही हैं। अंतिम संस्कार के बाद शहीद के परिजनों का दुख बांटने के लिए भी नेता उनके घर पहुंच रहे हैं।

शहीदों की अंतिम यात्रा में हजारों-लाखों की संख्या में शामिल होकर लोग यह संदेश देश रहे हैं कि यह देश के लिए शहादत देने वाले जवानों के परिवार का अकेला दुख नहीं है बल्कि यह भारत का दुख की सामूहिक संवेदना का विषय है।